Home राज्य छत्तीसगढ़ अगस्त में 41 फीसदी कम बारिश, पानी कम से सूख रहे खेत

अगस्त में 41 फीसदी कम बारिश, पानी कम से सूख रहे खेत

25
बारिश

रायपुर। छत्तीसगढ़ में संभवतः मानसून कमजोर होने लगा है। हालांकि यह अनुमान है। वहीं अगस्त के पिछले 24 दिनों में पूरे प्रदेश में 175.1 मिमी बारिश हुई है, जो औसत से 41 फीसदी कम है। यानी जून से 24 अगस्त तक की स्थिति थोड़ी ठीक है। इस दौरान 751.1 मिमी वर्षा हो चुकी है, जो औसत से महज 13 फीसदी कम है।

बारिश का कोटा भले ही मानसून के लिहाज से पूरा हो गया है लेकिन अगस्त में खासी कम बारिश हुई है। इसका असर खेतों में नजर आने लगा है। खेत सूख रहे हैं। मौसम विज्ञानियों ने बुधवार को भी राज्य में कुछ जगहों पर हल्की से मध्यम बारिश की संभावना जताई है लेकिन पूरे प्रदेश में व्यापक बारिश वाली स्थिति फिलहाल नहीं है।

दरअसल, अगस्त में खंड वर्षा हो रही है। कुछ इलाकों में बारिश हो रही तो दूसरा इलाका पूरी तरह सूखा है। दूसरी दिक्कत यह है कि बारिश के बाद मौसम खुलते ही तापमान में खासी बढ़ोतरी हो रही है। इससे उमस और गर्मी बढ़ी रही है। इसका असर लोगों की सेहत पर भी पड़ने लगा है। मंगलवार को सुबह करीब साढ़े 11 बजे रायपुर में तेज बारिश हुई। करीब दो घंटे में ही 11 मिमी के आसपास पानी गिर गया।

प्रदेश के कई शहरों में आज भी बारिश के आसार

मौसम विज्ञान केंद्र लालपुर के मौसम विज्ञानी एचपी चंद्रा के अनुसार एक द्रोणिका बीकानेर, भिवानी, दिल्ली, बरेली, गोरखपुर, दरभंगा, जलपाईगुड़ी व उसके बाद पूर्व असम तक स्थित है। इसके असर से प्रदेश के कुछ स्थानों पर हल्की से तेज बारिश हुई। बुधवार को अधिकतम तापमान मंे कोई खास परिवर्तन नहीं आएगा। इससे प्रदेश के कई शहरों में आज भी बारिश के आसार हैं।