Home राज्य छत्तीसगढ़ अंबिकापुर सांसद रेणुका सिंह मोदी मंत्रीमंडल में शामिल, समर्थकों में खुशी की...

अंबिकापुर सांसद रेणुका सिंह मोदी मंत्रीमंडल में शामिल, समर्थकों में खुशी की लहर

158
?????????????????????????????????????????????????????????

अंबिकापुर। सरगुजा की नवनिर्वाचित लोकसभा सांसद श्रीमती रेणुका सिंह को आज मोदी मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने की खबर है। इस संबंध में नवनिर्वाचित लोकसभा सांसद रेणुका सिंह के नजदीकी सूत्रों ने पुष्टि करते हुए बताया कि दोपहर 12ः00 बजे के बाद उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल करने का न्योता मिल गया है और वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण के उपरांत अन्य मंत्रियों के साथ आज ही शपथ ले सकती हैं। इस खबर से सरगुजा और छत्तीसगढ़ समेत उनके विभिन्न राज्यों में फैले समर्थकों में हर्ष का माहौल है खासकर उनके गृह जिले सूरजपुर में समर्थकों के द्वारा खुशियां मनाई जा रही है।

रेणुका सिंह का राजनीतिक सफर

सरगुजा लोकसभा सीट से भाजपा निर्वाचित सांसद रेणुका सिंह ने अपनी राजनीति की शुरुआत जनपद सदस्य के पद से शुरू की थी और छत्तीसगढ़ में हुए पहले विधानसभा चुनाव में उन्होंने तेजतर्रार आदिवासी नेता तुलेश्वर सिंह को पराजित कर विधानसभा में कदम रखा था। सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री भी रही चुकी हैं। वह अनुसूचित जनजाति की तेजतर्रार नेत्री के तौर पर पूरे प्रदेश में जानी जाती हैं।

साल-2003 से साल-2005 तक महिला बाल विकास मंत्री भी रही हैं। वह साल-2005 से साल-2013 तक सरगुजा विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष भी रह चुकी है। रेणुका सिंह प्रेमनगर विधानसभा सीट से दो बार विधायक निर्वाचित भी हुई हैं। हालांकि, साल-2013 के विधानसभा चुनाव में वह प्रेमनगर विधानसभा सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार खेलसाय सिंह से उन्हें 18 हजार मतों के अंतर से हार का सामना करना पड़ा था।

सरगुजा लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी रेणुका सिंह पिता फूल सिंह 58 वर्ष सूरजपुर जिले के सुभाष चौक रामानुजनगर की निवासी हैं। रेणुका सिंह ने हायर सेकेंडरी स्कूल तक की पढ़ाई की है, रेणुका सिंह साल-2000 से साल-2003 तक अविभाजित मध्यप्रदेश में भाजपा रामानुजनगर मंडल की प्रथम महिला अध्यक्ष बनी थीं, साल-2000 से 2003 तक रेणुका सिंह साल-2000 निर्वाचित होने के अलावा साल-2001 से साल-2003 तक समाज कल्याण बोर्ड की सदस्य भी रह चुकी हैं। साल-2002 से साल-2004 तक भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश मंत्री रहीं।

वर्तमान में भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के तौर पर कामन सम्हाले हुये हैं। पार्टी ने साल-2018 के विधानसभा चुनाव में उन्हें अवसर न देते हुये लोकसभा चुनाव-2019 में उन्हें मौका दिया है। सरगुजा संसदीय क्षेत्र से वे करीब डेढ़ लाख से भी अधिक मतों के अंतर से निर्वाचित होकर सरगुजा की प्रथम महिला सांसद बनी।