Home देश ननकाना गुरुद्वारे पर हमले के बाद भारत में गुस्सा, जानिए पूरा मामला

ननकाना गुरुद्वारे पर हमले के बाद भारत में गुस्सा, जानिए पूरा मामला

33
ननकाना गुरुद्वारे

नई दिल्ली। पाकिस्तान में श्री गुरुनानक देव जी के जन्म स्थान गुरुद्वारा श्री ननकाना साहिब पर शुक्रवार को उग्र भीड़ ने हमला कर दिया। भीड़ ने सिख श्रद्धालुओं को पीटा और गुरुद्वारे के गेट पर पथराव भी किया। भारत ने इस घटना की कड़ी निंदा की है और पाकिस्तान से सिखों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा है। भारतीय विदेश मंत्रालय की ओर से पाकिस्तान को यह संदेश दिया गया।

पाकिस्तान के इस घटनाक्रम की भारत में तीखी प्रतिक्रिया दी गई। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को एक ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि मैं इमरान खान से अपील करता हूं कि वह इस मामले में हस्तक्षेप करें और यह सुनिश्चित करें कि गुरुद्वारा ननकाना साहिब में फंसे श्रद्धालुओं को वहां से सही-सलामत बाहर निकाला जा सके और पवित्र गुरुद्वारे को वहां मौजूद बेकाबू भीड़ से सुरक्षित करें।

वहीं शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष गोबिंद सिंह लोंगोवाल ने कहा कि पाकिस्तान में सिखों को दबाया जा रहा है और इस कोशिश को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सरकार दोषियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई करे।

वहीं दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने पाक प्रधानमंत्री इमरान खान से अपील की है कि मुहम्मद एहसान जैसे गुंडों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। सिरसा ने कहा कि सिख यह कभी बर्दाश्त नहीं करेंगे कि इस तरह गुरुद्वारा साहिब पर हमला किया जाए। वह मूकदर्शक बनकर नहीं बैठेंगे।