Home राज्य छत्तीसगढ़ अंतागढ़ टेपकांडः वाइस सैंपल देने एसआईटी दफ्तर पहुंचे मंतुराम पवार

अंतागढ़ टेपकांडः वाइस सैंपल देने एसआईटी दफ्तर पहुंचे मंतुराम पवार

8
अंतागढ़ टेपकांड

रायपुर। अंतागढ़ टेपकांड मामला में मंगलवार को मंतूराम पवार वॉइस सैम्पल देने के लिए एसआईटी दफ्तर पहुंचे। अपने वकीलों के साथ एसआईटी दफ्तर पहुंचे मंतुराम ने कहा कि मैं कानून का सम्मान करता हूं और जांच में पूरा सहयोग कर रहा हूं, ताकि मेरे ऊपर लगे झूठे आरोप से मैं मुक्त हो सकूं।

इस दौरान एसआईटी दफ्तर में टीम के सदस्य अभिषेक माहेश्वरी और सिविल लाइन टीआई सुशांतो बनर्जी मौजूद थे। मंतूराम पवार ने यहां कहा कि एसआईटी के माध्यम से मेरे पास नोटिस आया है। मैं स्वयं की इच्छा से कानून का सहयोग कर रहा हूं, क्योंकि अंतागढ़ प्रकरण मैं मेरे ऊपर भी बहुत सारे आरोप पहले से लगा हुआ है। मैं चाहता हूं दूध का दूध और पानी का पानी हो।

मेरा तो मानना है कि मंतूराम पवार ही क्यों इसमें जिस जिस का नाम है, चाहे पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह के दमाद डॉ पुनीत गुप्ता का हो चाहे पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी और उनके बेटे अमित जोगी का हों, सारे लोगों को बिना कहे इस प्रकरण को जल्दी से जल्दी निराकरण करने के लिए एसआईटी के सामने आकर सहयोग करना चाहिए।

मैं देख रहा हूं कि पिछले समय से पीछे ही रहने की कोशिश हो रही है। एसआईटी और न्यायालय को सहयोग नही किया जा रहा। इसका मतलब दाल में काला नहीं, दाल ही पूरी काली है। इनके ऊपर मेरा आरोप है इन लोगों ने मंतूराम पवार को नाम वापसी के लिए भी मजबूर कर लिया मैं भाजपा में चला गया वहां भी डरा धमकाकर पांच साल तक डॉक्टर रमन सिंह ने रखा।