Home क्राइम सीएए के विरोध में दिल्ली में तीसरे दिन आगजनी और पथराव; 7...

सीएए के विरोध में दिल्ली में तीसरे दिन आगजनी और पथराव; 7 की मौत…पढ़िए पूरा मामला

13
सीएए

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के मुद्दे पर उत्तर-पूर्वी दिल्ली में मंगलवार को लगातार तीसरे दिन भी हिंसा हुई। उपद्रवियों ने सुबह मौजपुर और ब्रह्मपुरी इलाके में फिर से पत्थरबाजी की, एक फायर ब्रिगेड को आग के हवाले कर दिया। इससे पहले रात 3 बजे तक उत्तर-पूर्वी दिल्ली में आग लगने की 45 कॉल आईं। इससे पहले सोमवार को जाफराबाद और मौजपुर इलाके में सीएए विरोधी और समर्थक गुट आमने-सामने आ गए थे। इस दौरान हिंसा में हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल समेत 7 लोगों की मौत हो गई।

शहादरा के डीसीपी अमित शर्मा, एसीपी अनुज कुमार और दमकल कर्मियों समेत 40 जवान जख्मी हैं। 70 लोग घायल हुए। पुलिस ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है, लेकिन कई इलाकों में तनाव है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के भारत दौरे और उनके दिल्ली पहुंचने से कुछ घंटे पहले हुई हिंसा के पीछे दिल्ली पुलिस को सुनियोजित साजिश का अंदेशा है।

पुलिस के मुताबिक, ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि दुनिया के सामने प्रधानमंत्री मोदी और भारत छवि खराब की जा सके। ट्रम्प सोमवार रात को दिल्ली के चाणक्यपुरी स्थित एक होटल में रुके। ये जगह हिंसा वाले इलाके से करीब 20 किमी की दूरी पर है।

अब तक के अपडेट्स

  • केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने हिंसा को लेकर मंत्रालय के अफसरों के साथ देर रात तक आपात बैठक की। आज दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और अन्य दलों के नेताओं के साथ बैठक करेंगे। केजरीवाल ने भी दिल्ली के सभी विधायकों की बैठक बुलाई।
  • उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सोमवार रात सीआरपीएफ की 8 कंपनियां तैनात की गईं। ब्रह्मपुरी इलाके में मंगलवार को पथराव के बाद आरएएफ के जवानों ने फ्लैग मार्च किया।
  • हिंसा प्रभावित उत्तर-पूर्वी दिल्ली में मंगलवार को सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे। बोर्ड और अन्य परीक्षाएं स्थगित की गईं।
  • डीएमआरसी ने आज 5 मेट्रो स्टेशन- जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर, गोकलपुरी, जौहरी एन्क्लेव और शिव विहार बंद किए।