Home साइंस एंड टेक्नोलॉजी एजुकेशन/करियर लोयोला कॉलेज में लगी पेंटिंग प्रदर्शनी पर घमाचान, भारतमाता को मीटू मूवमेंट...

लोयोला कॉलेज में लगी पेंटिंग प्रदर्शनी पर घमाचान, भारतमाता को मीटू मूवमेंट का पीड़ित दिखाया गया

47
लोयोला कॉलेज में लगी पेंटिंग प्रदर्शनी पर घमाचान, भारतमाता को मीटू मूवमेंट का पीड़ित दिखाया गया

चेन्नई लोयोला कॉलेज में लगी पेंटिंग प्रदर्शनी पर सियासी घमाचान मच गया है. बीजेपी ने इस प्रदर्शनी को हिंदू विरोधी बताया है. सोमवार को बीजेपी ने चेन्नई के डीजीपी के सामने इंस्टीट्यूट के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है.बीजेपी और आरएसएस के कई नेताओं ने इस कार्यक्रम की निंदा की है और इस कॉलेज के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है.

दरअसल लोयोला कॉलेज ने वीथी विरुधू विजाह नाम से दो दिवसीय लोक उत्सव का आयोजन किया था. यह आयोजन 19 और 20 जनवरी को किया गया था. इस उत्सव में ही एक पेंटिंग प्रदर्शनी लगी थी. इस प्रदर्शनी में जातीय हिंसा, यौन हिंसा, क्रूरता और एक्टिविस्टों की आवाज दबाने वाली पेंटिंग्स थीं. इनमें जिस पेंटिंग पर सबसे ज्यादा विवाद हुआ वह भारतमाता की पेंटिंग थी जिन्हें मीटू मूवमेंट का पीड़ित दिखाया गया था.

हिंदुत्ववादी कार्यकर्ताओं ने इस पेंटिंग को अपमानजनक बताया और आरोप लगाया कि ऐसा करके बीजेपी, आरएसएस और पीएम मोदी की छवि को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की गई है.

बीजेपी के राष्ट्रीय सचिव एच राजा ने कहा कि इस कार्यक्रम को नक्सलियों ने आयोजित किया था जो लोगों पर क्रिश्चिएनिटी की तरफ जाने के लिए दबाव डालते हैं और हिंदुओं और परंपराओं का अपमान करते हैं.

पेंटिंग की निंदा करते हुए तमिलनाडु बीजेपी अध्यक्ष साउंडाराजन ने कहा, ‘इन पेंटिंग्स को देखकर मेरा खून खौल रहा है. इन लोगों ने हमारी भारत माता का अपमान किया है, मैं मांग करता हूं कि लोयोला कॉलेज इस मसले पर माफी मांगे, अगर ऐसा नहीं किया गया तो बीजेपी प्रदर्शन करेगी.’

हालांकि मामले के बढ़ जाने के बाद लोयोला कॉलेज ने माफी मांगी है और कहा कि आपत्तिजनक पेंटिंग्स को हटा दिया गया है.