Home राज्य छत्तीसगढ़ भाटापारा जनपद पंचायत अध्यक्ष को गंवानी पड़ी कुसी, अविश्वास प्रस्ताव में विरोध...

भाटापारा जनपद पंचायत अध्यक्ष को गंवानी पड़ी कुसी, अविश्वास प्रस्ताव में विरोध में पड़े 20 मत

36
भाटापारा जनपद पंचायत अध्यक्ष

भाटापारा। बलौदाबाजार जिले के भाटापारा जनपद पंचायत इन दिनों सियासी गलियारों में चर्चा का विषय बना हुआ है। दरअसल, कांग्रेस शासित भाटापारा जनपद पंचायत अध्यक्ष संगीता मनोहर साहू के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित हो गया। प्रस्ताव के पक्ष में 20 मत पड़े, जबकि 25 जनपद सदस्य ने मतदान किया है। इस दौरान पुलिस बल, एसडीओपी सिद्धार्थ बघेल, टीआई महेश ध्रुव की मौजूदगी में चुनाव शांतिपूर्वक निपटा।

जानकारी के अनुसार भाटापारा जनपद पंचायत में जनपद अध्यक्ष संगीता मनोहर साहू के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया गया। भाटापारा जनपद पंचायत में 91 ग्राम पंचायत एवं 25 जनपद सदस्य है। इसके पहले दो बार अविश्वास प्रस्ताव का चुनाव रद्द हो चुका है, जिसमें एक बार स्टे भी लगाया गया था। जनपद सदस्यों ने उपाध्यक्ष सुरेद्र यदु के नेतृत्व में न्यायालय से स्टे हटवा कर आज अविश्वास प्रस्ताव पारित किया गया, जिसमें 25 जनपद सदस्यों ने अविश्वास प्रस्ताव के लिए मतदान किया।

भाटापारा एसडीएम लवीना पांडे पीठासीन अधिकारी के रूप मे चुनाव संपन्न कराया। दरअसल, 25 जनपद सदस्यों में 20 मत जनपद अध्यक्ष के विपक्ष में पड़े। वही पक्ष में मात्र 5 मत पडे़. इसके बाद जनपद अध्यक्ष संगीता मनोहर साहू के लिए लाया गया। अविश्वास प्रस्ताव पारित हो गया एवं जनपद अध्यक्ष संगीता साहू को जनपद अध्यक्ष से हटाया गया।

जनपद अध्यक्ष की कुर्सी खाली होने पर वर्तमान में प्रभारी अध्यक्ष के रूप में उपाध्यक्ष सुरेंद्र यदु जनपद को संचालन करेंगे। उपाध्यक्ष सुरेंद्र यदु ने कहा कि जल्द ही चुनाव की प्रक्रिया कर संगठात्मक विचारों का पालन करते हुए अध्यक्ष का चुनाव करवाया जाएगा। अध्यक्ष के लिए अविश्वास प्रस्ताव लाने का कारण पूछने पर अध्यक्ष द्वारा वित्तीय अनिमिततता एवं दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है।