Home राज्य छत्तीसगढ़ घटती लोकप्रियता से ध्यान बांटने भाजपा ने खुद बनाई फर्जी टूलकिट और...

घटती लोकप्रियता से ध्यान बांटने भाजपा ने खुद बनाई फर्जी टूलकिट और कांग्रेस का नाम दियाः विकास

53
फर्जी टूलकिट

रायपुर। टूलकिट मामले में भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने आ गए हैं। इस बीच संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने टूलकिट पर भाजपा पर गंभीर आरोप लगाए। विकास उपाध्याय ने कहा कि भाजपा ने खुद फर्जी टूलकिट बनाई और कांग्रेस का नाम लिया। यह मोदी सरकार की नाकामियों को छिपाने के लिए भाजपा का षड़यंत्र है।

विकास उपाध्याय ने कहा कि बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा और बीजेपी के महासचिव बीएल संतोष ने चार-चार पेज के अलग-अलग दो डॉक्यूमेंट के स्क्रीनशॉट ट्वीट किए। इनमें से एक डॉक्यूमेंट कोविड-19 को लेकर था और दूसरा सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट को लेकर और उन्होंने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि कांग्रेस ने देश में कोरोना महामारी को लेकर मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए ये टूलकिट तैयार किया है।

विकास ने कहा कि इसमें महत्वपूर्ण बात ये है कि सेंट्रल विस्टा पर जो डॉक्यूमेंट टूलकिट बता कर भाजपा नेताओं द्वारा शेयर किए जा रहे हैं वो दरअसल टूलकिट नहीं बल्कि एक रिसर्च डॉक्यूमेंट है, जिसमें सेंट्रल विस्टा प्रोजक्ट के कारण होने वाले नुकसान की बात कही गई है और कांग्रेस रिसर्च डिपार्टमेंट के प्रमुख राजीव गौड़ा ने स्पष्ट रूप से स्वीकार किया है की इसे उनकी टीम ने बनाया है। लेकिन कोविड-19 को लेकर जो टूलकिट बनाया गया है वो पूरी तरह फर्जी है।

उन्होंने आरोप लगाया कि इसे भाजपा ने खुद फर्जी तरीके से बना कर सेंट्रल विस्टा के डॉक्यूमेंट से लिंक कर दिया, जिससे लोग इसमे अंतर ना समझ सके। टूलकिट भाजपा का ही तैयार किया गया प्रोपेगंडा है। कांग्रेस की रिसर्च टीम के रिसर्च को फर्जी तरीके से लिंक करके टूल किट का नाम दिया गया है।