Home राज्य छत्तीसगढ़ रिश्वत मंगाना पड़ा महंगा, प्रबंधक को चार साल की जेल और 50...

रिश्वत मंगाना पड़ा महंगा, प्रबंधक को चार साल की जेल और 50 हजार का जुर्माना

87
रिश्वत मंगाना पड़ा महंगा, प्रबंधक को चार साल की जेल और 50 हजार का जुर्माना

रायपुर। छत्तीसगढ नागरिक आपूर्ति निगम (नान) के तत्कालीन प्रबंधक शिवशंकर भट्ट को शनिवार को अदालत ने चार साल की सजा सुनाई है। विशेष न्यायाधीश सुनील कुमार नंदे ने उन पर 50 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। आरोपी शिवशंकर ने वर्ष 2006 में सोसायटियों में खाद्यान्न पहुंचाने के लिए ठेकेदार रवि अग्रवाल से किराए का दो लाख रुपए बिल भुगतान कराने के लिए 25 हजार रुपए की रिश्वत की मांग की थी। ठेकेदार से यह सौदा हुआ था कि पहले पांच हजार रुपए देना पड़ेगा और 20 हजार रुपए बिल पास होने पर। पांच हजार रुपए की रिश्वत मिलने पर अधिकारी ने बिल की फाइल आगे बढ़ा दी। इसके बाद ठेकेदार ने इसकी शिकायत एन्टी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) से कर दी। उसके बाद एसीबी की टीम ने आरोपी को ठेकेदार से 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया था।