Home क्राइम बुजुर्ग पिता करना चाहता था दूसरी शादी, बेटे ने कर दी हत्या

बुजुर्ग पिता करना चाहता था दूसरी शादी, बेटे ने कर दी हत्या

33
बुजुर्ग पिता करना चाहता था दूसरी शादी, बेटे ने कर दी हत्या

नई दिल्ली | दिल्ली के नरेला में बीते मंगलवार को बुजुर्ग कारोबारी की लाश मिलने के मामले में पुलिस ने गुरुवार को तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस का दावा है कि बुजुर्ग की हत्या की साजिश उसके ही बेटे शशि ने रची थी, क्योंकि बुजुर्ग दूसरी शादी करना चाहते थे, जिससे वह नाराज था। पुलिस फरार बेटे शशि की तलाश कर रही है। गौरतलब है कि 13 नवंबर को पुलिस ने हौलंबी कलां इलाके से 60 साल के बुजुर्ग रामनाथ मंडल की लाश बरामद की थी। रामनाथ की बादली में प्लास्टिक के दाने बनाने की फैक्टरी है।

इसके बाद पुलिस ने हत्या का केस दर्ज कर स्पेशल स्टाफ के एसीपी रणबीर सिंह खत्री की देखरेख में एसएचओ नरेला राकेश कुमार और स्पेशल स्टाफ के इंस्पेक्टर अजय कुमार के नेतृत्व में टीम गठित की। पुलिस ने कॉल डिटेल और सर्विलांस की मदद से बुजुर्ग की हत्या के आरोप में गुरुवार को संतोष, राहुल व पंकज को गिरफ्तार कर लिया।

दूसरी शादी की बात से नाराज बेटे की करतूत : गिरफ्तार आरोपियों में से एक संतोष कारोबारी का चालक था। उसने पुलिस पूछताछ में बताया कि हत्या की साजिश बुजुर्ग के बेटे शशि ने रची थी। शशि को मालूम हुआ था कि उसके पिता दूसरी शादी करने की तैयारी कर रहे हैं। उसने इसका विरोध भी किया, लेकिन पिता शादी की जिद पर अड़े रहे। तब उसने पिता को रास्ते से हटाने की तैयारी की।


तीन लाख की सुपारी दी : शशि अक्सर पिता की फैक्टरी में हाथ बंटाने के लिए आता था। इसी दौरान उसकी दोस्ती संतोष से हो गई थी। संतोष के जरिए ही उसने तीन लाख रुपये में राहुल और पंकज को पिता की हत्या के लिए सुपारी दी। शशि ने ही दोनों को मुंगेर से हथियार लाकर दिए थे।
परिजन बोले-परेशान थी एयरलाइंसकर्मी पर कोई कारण नहीं बताया

सस्ता दाना दिलाने के बहाने नरेला लाए : साजिश के तहत शशि ने पिता से कहा कि वह बिहार जा रहा है। मगर वह आदर्श नगर में अपने साले के घर छिप गया। 7 नवंबर को हत्या की साजिश रची गई। योजना के मुताबिक 12 नवंबर को रामनाथ मंडल को संतोष सस्ते दाम पर दाना खरीदने के बहाने नरेला ले जाने लगा। इसी दौरान उसनेे राहुल को मजदूर बनाकर छोटा हाथी में अपने साथ बैठा लिया और पंकज चुपके से पीछे बैठ गया। इसके बाद रामनाथ को लेकर तीनों सुनसान इलाके में गए।

अपने सामने गोली मारने को कहा : रामनाथ को नीचे उतारकर पहले राहुल ने उनके सिर पर बोतल दे मारी। इसी बीच शशि भी वहां पहुंच गया। उसने राहुल को पिस्टल दी और अपने पिता को गोली मारने का आदेश दे दिया। बुजुर्ग को गोली मारने के बाद बदमाशों ने शव फेंक दिया।