Home देश तीन मंत्रियों समेत सीएम केजरीवाल LG के घर कर रहे हैं धरना...

तीन मंत्रियों समेत सीएम केजरीवाल LG के घर कर रहे हैं धरना प्रदर्शन

186
तीन मंत्रियों समेत सीएम केजरीवाल LG के घर कर रहे हैं धरना प्रदर्शन
तीन मंत्रियों समेत सीएम केजरीवाल LG के घर कर रहे हैं धरना प्रदर्शन

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अपनी तीन म़़ंत्रियों समेत अपनी तीन मांगों को लेकर उपराज्यपाल अनिल बैजल के घर सोमवार शाम से धरने पर बैठ गए हैं।

मुख्यमंत्री केजरीवाल के साथ देने उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल राय और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन भी पूरी रात धरने पर बैठे रहे।

यह है केजरीवाल की मांग

— उपराज्यपाल दिल्ली सरकार को डोर टू डोर राशन योजना को मंज़ूरी दें।
— पिछले चार महीने से जितने भी अधिकारी सरकार के कामकाज का बहिष्कार कर रहे हैं उन पर कार्रवाई हो।
— ऐसे अधिकारी जो कथित रूप से हड़ताल पर हैं और काम-काज नहीं कर रहे हैं वो वापस से काम-काज शुरू करें।

केजरीवाल का आरोप है कि इस पूरे मामले में एलजी का रवैया काफी ढीला-ढाला रहा है।

अरविंद केजरीवाल ने इस बारे में अपने ट्वीटर अकाउंट पर लिखा, उनके पास सीबीआई, पुलिस, ईडी, आईटी, आईएएस, एसीबी- सब कुछ है। फिर वो इतना घबराए क्यों हैं? हमारे साथ सत्य है, आत्मबल है। इसीलिए चेहरों पर सुकून और मुस्कान है। सत्य में बड़ी ताक़त होती है।’

मनीष सिसोदिया ने उपराज्‍यपाल अनिल बैजल ट्वीट करके कहा कि हमारे स्कूलों में वाइट वॉश का काम गर्मी की छुट्टियों में होना था।

इस बार आपके आईएएस अधिकारियों की हड़ताल के चलते ये काम शुरू ही नहीं हुआ। बड़ी मुश्किल से सरकारी स्कूलों की चमक लौटनी शरू हुई थी। इसका काम बंद करवाकर आप कह रहे हैं, आईएएस अफसर काम तो कर रहे हैं।

वहीं मंगलवार सुबह सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि मेरे प्यारे दिल्लीवासियों, सुप्रभात! संघर्ष जारी है।

दिल्‍ली के मंत्री सत्येंद्र जैन ने ट्वीट करके कहा कि सुप्रभात साथियों, दिल्ली की जनता को उनके अधिकार दिलाने के लिए हमारा यह संघर्ष जारी है। इंक़लाब जिंदाबाद।

धरने पर बैठे मनीष सिसोदिया ने मंगलवार सुबह-सुबह एलजी को ट्वीट किया। इस ट्वीट में लिखा है कि दिल्ली के सीएम और 3 मंत्री सोमवार शाम से अब तक आपके वेटिंग रूम में आपका इंतज़ार कर रहे हैं। हमें उम्मीद है कि आज आप अपने व्यस्त समय से हमारे कुछ वक़्त निकाल सकेंगे।