Home बड़ी ख़बर मप्र में चौथी बार सीएम शिवराज, कुछ देर बाद साबित करेंगे बहुमत

मप्र में चौथी बार सीएम शिवराज, कुछ देर बाद साबित करेंगे बहुमत

35
शिवराज

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को विधानसभा में विश्वास मत पेश करेंगे। उन्होंने राजभवन में 19वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। सोमवार देर रात विधानसभा की कार्यसूची जारी की गई थी। वर्तमान में सदन में विधायकों की संख्या 206 है। बहुमत साबित करने के लिए भाजपा को 104 वोटों की जरूरत है, जबकि उसके पास 107 विधायक हैं। ऐसे में शिवराज आसानी से बहुमत साबित कर लेंगे।

भाजपा सरकार बनते ही विधानसभा स्पीकर एनपी प्रजापति ने सोमवार रात इस्तीफा दे दिया। उन्होंने इस्तीफा डिप्टी स्पीकर हिना कांवरे को दिया। विधानसभा सचिवालय के मुताबिक, मंगलवार से विधानसभा सत्र शुरू होगा, जो 27 मार्च तक चलेगा। 25 मार्च को गुड़ी पड़वा का अवकाश रहेगा। 26 मार्च को सरकार लेखानुदान पेश करेगी। इसी दौरान नए स्पीकर का भी चुनाव हो सकता है। 27 मार्च को लेखानुदान प्रस्ताव पर चर्चा के बाद इसे पारित कर दिया जाएगा।

चौथी बार मप्र के सीएम बनने वाले पहले नेता

एक साल, 3 महीने और 6 दिन बाद शिवराज सिंह चौहान फिर से प्रदेश के मुख्यमंत्री बन गए। उन्हें राज्यपाल लालजी टंडन ने राजभवन में हुए एक सादे समारोह में राज्य के 19वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ दिलाई। शिवराज चौथी बार इस पद पर काबिज होने वाले प्रदेश के एक मात्र नेता हैं। कोरोना संकट को देखते हुए शपथ कार्यक्रम में सिर्फ 40 लोगों को बुलाया गया था। उनके बैठने की व्यवस्था भी ऐसे की गई, ताकि प्रत्येक के बीच कम से कम एक मीटर की दूरी रहे।