Home क्राइम ऑनलाइन सट्टे पर शिकंजा, 18 कार्पाेरेट अकाउंट फ्रीज, ईडी ने दुर्ग पुलिस...

ऑनलाइन सट्टे पर शिकंजा, 18 कार्पाेरेट अकाउंट फ्रीज, ईडी ने दुर्ग पुलिस से मांगी जानकारी

28
ऑनलाइन सट्टे पर शिकंजा, 18 कार्पाेरेट अकाउंट फ्रीज, ईडी ने दुर्ग पुलिस से मांगी जानकारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ में ऑनलाइन गेमिंग और सट्टे पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जांच शुरू कर दी है। दरअसल, प्रदेश में फेमा एक्ट के तहत केस दर्ज करने के बाद विदेशों से लेनदेन करने वाले हैंडलर को गिरफ्तार करने की तैयारी है। इस बीच, दुर्ग पुलिस ने अब तक 18 कार्पाेरेट अकाउंट को फ्रीज कर दिया हैं। इसकी पूरी जानकारी ईडी को सौंपी गई है। बता दें कि ईडी ने सुपेला थाना प्रभारी को पत्र लिखकर महादेव एप के मामले में अब तक की गई कार्रवाई की जानकारी मांगी है, जिसमें एफआईआर, चार्जशीट और जिस बैंक के कारर्पाेरेट अकाउंट में लेनदेन हुआ है उसके दस्तावेज मंगाए गए हैं। इसके आधार पर भी जांच होगी।

सुपेला थाना समेत अन्य थानों में दर्ज प्रकरण में 18 कार्पाेरेट अकाउंट का जिक्र हैं, जिसे पुलिस ने जब्त किया है। तीन दिन पहले आरोपी मो. नसमुद्दीन को पुलिस ने पकड़ा था। उसके पास से 15 कार्पाेरेट अकाउंट मिले। इसमें करोड़ों रुपये का लेनदेन किया गया है। अब उक्त कार्पाेरेट अकाउंट से जुड़े लोगों की धरपकड़ करेगी।

मिली जानकारी के अनुसार ईडी ने इस एप से जुड़े मुख्य सरगना व उनसे जुड़े लोगों को गिरफ्तार करने की योजना बनाई है। ईडी को संकेत मिले हैं कि ऑनलाइन गेमिंग से विदेशों में पांच हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का लेन-देन किया गया है। जिन खातों का उपयोग किया गया है। वे शैल कंपनियों की खाते की तरह हैं और आशंका है कि मनी लाड्रिंग से काली कमाई सफेद की जा रही है।