Home देश दिल्ली दुष्कर्म मामले की जांच अब क्राइम ब्रांच करेगी, लाई डिटेक्टर टेस्ट...

दिल्ली दुष्कर्म मामले की जांच अब क्राइम ब्रांच करेगी, लाई डिटेक्टर टेस्ट कराने की भी तैयारी

29
दिल्ली दुष्कर्म

नई दिल्ली। दिल्ली में नौ साल की बच्ची की दुष्कर्म और हत्या के मामले में पोस्टमॉर्टम में बच्ची की मौत के कारण का पता नहीं चल सका है। इससे यह पुष्टि नहीं हो सकी कि उसकी मौत करंट लगने से हुई थी। पुलिस ने वॉटर कूलर को फॉरेंसिक जांच के लिए एफएसएल लैब भेजा है। इस बीच, पुलिस आरोपियों का लाई डिटेक्टर टेस्ट कराने की भी तैयारी कर रही है।

डीसीपी इंगित प्रताप सिंह ने कहा कि सात दिन में जांच पूरी कर फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई की जाएगी। इसी बीच मामले की जांच क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है। गौरतलब है कि ओल्ड नांगल गांव में श्मशान में पानी लेने पहुंची बच्ची से दुष्कर्म, हत्या और उसके बाद जबरन अंतिम संस्कार का आरोप है। इस मामले में कर्मकांडी पुजारी सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उनपर दुष्कर्म, हत्या और पोक्सो की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए विरोध-प्रदर्शन जारी है। निर्भया चौक पर निर्भया की मां सहित बड़ी संख्या में लोगों ने कैंडल मार्च निकाला। बता दें कि एक दिन पहले ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को पीड़ित परिवार से मुलाकात की और मजिस्ट्रियल जांच का ऐलान किया।

पीड़ित परिवार का फोटो पोस्ट किया, सोशल मीडिया से कार्रवाई की मांग

राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर दुष्कर्म मामले के पीड़ित परिवार की फोटो पोस्ट करने के सिलसिले में राहुल गांधी की शिकायत मिली है। इस पर आयोग ने पुलिस और उस प्लेटफॉर्म से राहुल पर कार्रवाई करने को कहा है। आयोग ने इसे पोक्सो और किशोर न्याय कानून के प्रावधानों का उल्लंघन बताया है।