Home देश देश के नए मुख्य चुनाव आयुक्त होंगे सुनील अरोड़ा, दो दिसंबर को...

देश के नए मुख्य चुनाव आयुक्त होंगे सुनील अरोड़ा, दो दिसंबर को संभालेंगे कार्यभार

48
देश के नए मुख्य चुनाव आयुक्त होंगे सुनील अरोड़ा, दो दिसंबर को संभालेंगे कार्यभार

नई दिल्ली। राजस्थान कैडर के आइएएस अधिकारी सुनील अरोड़ा (62) देश के नए मुख्य चुनाव आयुक्त होंगे। 2019 का लोकसभा चुनाव उनके नेतृत्व में ही संपन्न होगा। इसके अलावा जम्मू एवं कश्मीर, ओडिशा, महाराष्ट्र, हरियाणा, आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम के विधानसभा चुनाव भी अगले साल होने हैं।

अरोड़ा दो दिसंबर को अपना पदभार ग्रहण करेंगे। वर्तमान मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत एक दिसंबर को रिटायर हो रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि उनकी नियुक्ति के संबंध में हालांकि औपचारिक अधिसूचना जारी नहीं हुई है, लेकिन केंद्र सरकार द्वारा उनके नाम को मंजूरी दे दी गई है और इसे राष्ट्रपति के पास भेज दिया गया है। 31 अगस्त, 2017 को उनको चुनाव आयुक्त नियुक्त किया गया था।


ओपी रावत के बाद वह दूसरे सबसे वरिष्ठ चुनाव आयुक्त हैं। 1980 बैच के आइएएस अधिकारी अरोड़ा सूचना-प्रसारण सचिव और कौशल विकास एवं उद्यमिता सचिव के तौर पर काम कर चुके हैं। उन्होंने वित्त और कपड़ा मंत्रालय और योजना आयोग में भी काम किया है। वर्ष 1999-2002 के दौरान वह नागरिक उड्डयन मंत्रालय में भी रहे।

पांच वर्षो तक वह इंडियन एयरलाइंस में सीएमडी की भूमिका निभा चुके हैं। इसमें से दो वर्ष अतिरिक्त प्रभार और तीन वर्ष पूर्ण प्रभार रहा।राजस्थान में वह धौलपुर, अलवर और जोधपुर आदि जिलों में पदस्थापित रहे। वर्ष 1993-1998 के दौरान वह मुख्यमंत्री के सचिव और 2005-2008 के बीच मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव रहे।

जानिए- कौन है सुनील अरोरा
• सुनील अरोड़ा साल 1980 बैच के राजस्थान कैडर के आईएएस अधिकारी है।
• उन्होंने वित्त, कपड़ा एवं योजना आयोग जैसे मंत्रालयों एवं विभागों में भी विभिन्न पदों पर सेवाएं दी हैं।
• वह साल 1999-2002 के दौरान नागरिक विमानन मंत्रालय में संयुक्त सचिव के पद पर काम कर चुके हैं।
• वे पांच साल तक इंडियन एयरलाइंस के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक (सीएमडी) भी रहे हैं, इसमें दो साल तक वह अतिरिक्त प्रभार में थे जबकि तीन साल तक उनके पास कंपनी का पूर्णकालिक प्रभार था।
• वे राजस्थान में धौलपुर, अलवर, नागौर और जोधपुर जैसे जिलों में तैनात रह चुके हैं।
• वे वर्ष 1993-1998 के दौरान मुख्यमंत्री के सचिव पद पर थे।
• वे वर्ष 2005-2008 के दौरान मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव थे।
• उन्होंने राज्य के सूचना एवं जनसंपर्क, उद्योग एवं निवेश विभागों में भी अपनी सेवाएं दी हैं।