Home राज्य छत्तीसगढ़ टूलकिट विवाद मामले में रायपुर के सिविल लाइन थाने के सामने कार्यकर्ताओं...

टूलकिट विवाद मामले में रायपुर के सिविल लाइन थाने के सामने कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठे पूर्व सीएम रमन

75
टूलकिट विवाद

रायपुर। टूलकिट विवाद मामले में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज रायपुर के सिविल लाइन थाने पहुंचकर पुलिस को गिरफ्तारी की चुनौती दी। रमन सिंह और उनके साथ गए भाजपा नेता थाने के ठीक बाहर बकायदा मंच लगाकर बैठ गए हैं। इसी थाने में रमन सिंह और संबित पात्रा के खिलाफ गैर जमानती धाराओं में मामला दर्ज हुआ है।

तय कार्यक्रम के मुताबिक आज सुबह 9.45 बजे के करीब पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह थाने जाने के लिए अपने मौलश्री विहार स्थित घर से रवाना हुए। उनके घर से निकलने पर भाजपा नेताओं-कार्यकर्ताओं ने फूल-मालाओं से उनका स्वागत किया। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, पूर्व मंत्री राजेश मूणत, सच्चिदानंद उपासने, भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीचंद्र सुंदरानी, संजय श्रीवास्तव जैसे नेताओं के साथ भाजपा डॉ. रमन सिंह सुबह 10.15 बजे के करीब रायपुर के सिविल लाइंस थाने पहुंचे। वहां थाना गेट के ठीक बाहर सड़क के एक किनारे मंच लगा हुआ था।

सभी वरिष्ठ नेता वहां बैठ गए इस दौरान कार्यकर्ताओं ने सड़क पर मानव शृंखला बनाकर राज्य सरकार और कांग्रेस पार्टी के खिलाफ नारेबाजी की। भाजपा कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लगा हुआ है। इस धरने के जरिए भाजपा अपने नेताओं के खिलाफ हुए एफआईआर और सरकारी के महामारी कानून दोनों को चुनौती दे रही है। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि कांग्रेस सरकार विरोध की आवाज को दबाना चाहती है। भाजपा का एक-एक कार्यकर्ता उनको गिरफ्तारी की चुनौती दे रहा है।