Home लाइफ स्टाइल फैशन ट्रेंड्स दुनिया की पहली लिपस्टिक ऐसे बनाई गई थी, दिलचस्प है इसकी कहानी

दुनिया की पहली लिपस्टिक ऐसे बनाई गई थी, दिलचस्प है इसकी कहानी

291
दुनिया की पहली लिपस्टिक ऐसे बनाई गई थी, दिलचस्प है इसकी कहानी

दुनिया की हर महिला और लड़कियों की मेकअप की लिस्ट में लिपस्टिक सबसे ऊपर होती है। हो भी क्यों न, लिपस्टिक के बिना अच्छे से अच्छा मेकअप अधूरा होता है। कोई बड़ा फंक्शन हो या त्यौहार, ऑफिस हो या दोस्तों के साथ पार्टी हर महिला चेहरे पर कुछ लगाए या न लगाए अपनी पसंदीदा रंग की लिपस्टिक लगाना कभी नहीं भूलती है। ये सारी बातें तो ठीक हैं लेकिन क्या महिलाएं ये जानती हैं की लिपस्टिक आखिर आयी कहां से? इसका अविष्कार किसने किया? किस देश में सबसे पहले बनायी गयी थी लिपस्टिक? ये वो दिलचस्प प्रश्न हैं जिनकी जानकारी आपको होनी चाहिए अगर नहीं है तो जान लीजिये लिपस्टिक से संबंधित कुछ रोचक तथ्य।

सुमेरियन सभ्यता की महिलाएं सबसे पहले लिपस्टिक इस्तेमाल करना शुरू किया था। लिपस्टिक प्राकृतिक संसाधनों से बनायी जाती थी जैसे फल, हीना, मिट्टी और कीड़े मकौड़े। इस मामले में मेसापोटामिया सभ्यता की महिलाएं थोड़ी फैंसी मानी जाती हैं, क्यूंकि उस समय औरतें कीमती रत्नों को मसलकर उसे अपने होंठ पर लगाती थी।

19वीं शताब्दी के अंत तक, एक फ्रांसीसी कॉस्मेटिक कंपनी गुएरलेन ने लिपस्टिक का निर्माण करना शुरू किया था। पहली व्यावसायिक लिपस्टिक का आविष्कार 1884 में पेरिस, फ्रांस में इत्र निर्माताओं द्वारा किया गया था। वो रेशम के कागज में बंद और हिरण के तेल, अरंडी के तेल और मधुमक्खियों के वैक्स से बनाया गया था।

1952 में रानी एलिजाबेथ II ने खुद का शेड्स बनाया जिसका नाम ‘बालमोरल’ रखा गया। अरब वैज्ञानिक अबुलकोसिस ने सबसे पहले 9वीं ईसवी में ठोस लिपस्टिक का अविष्कार किया था। दुनिया की सबसे महंगी लिपस्टिक गुएरलेन की एक्सक्लूसिव किसकिस गोल्ड और डायमंड लिपस्टिक है, जिसकी कीमत लगभग 62,000 डॉलर (4,261,570 रुपये) है। पर्याप्त रूप से यह लिपस्टिक नहीं है, लेकिन असल में यह 199 हीरे और 110 ग्राम सोने से बनी है।

मर्लिन मुनरो और एलिजाबेथ टेलर केवल लाल लिपस्टिक का ही इस्तेमाल करती थी। इन्हीं की वजह से बोल्ड रेड लिपस्टिक फेमस हुई। एक अध्ययन के मुताबिक जो औरतें लिपस्टिक नहीं लगातीं, वो लिपस्टिक लगाने वाली औरतों से ज्यादा पुरुषों को आकर्षित करती हैं।