Home देश स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन बोले-14 वैक्सीन पर काम चल रहा, 4 एडवांस...

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन बोले-14 वैक्सीन पर काम चल रहा, 4 एडवांस स्टेज मे

13
डॉ. हर्षवर्धन

नई दिल्ली। कोरोना संकट के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन का कहना है कि देश में कोरोना का वैक्सीन तैयार करने के लिए पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत काम चल रहा है। एक असरदार वैक्सीन बनाने की कोशिश है। इस वक्त 14 कंपनियां इस काम में जुटी हैं। इनमें से 4 के वैक्सीन प्री-क्लीनिकल ट्रायल के एडवांस स्टेज में हैं। 10 वैक्सीन को बायोटेक्नोलॉजी डिपार्टमेंट से फंडिंग देने की सिफारिश की गई है।

एक न्यूज एजेंसी से चर्चा के दौरा स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि सही समय पर फैसले लेने से हम बेहतर स्थिति में हैं। 26 मई तक के आंकड़ों के मुताबिक भारत में एक लाख में से 10.7 लोग संक्रमित हैं, जबकि दुनिया में प्रति एक लाख की आबादी में औसत 69.9 केस हैं। हमारे यहां प्रति लाख आबादी में कोरोना से मरने वालों की संख्या 0.3 है, जबकि दुनिया में 4.4 है।

उन्होंने कहा कि मेरा अनुभव है कि कोरोना तेजी से फैल रहा है, लेकिन इसकी वजह से मौतों की दर (फेटैलिटी रेट) कम है। भारत में कंप्लीट लॉकडाउन और पब्लिक हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर पर फोकस करने से कोरोना से मरने वालों की संख्या कम करने में मदद मिली। ये कहना जल्दबाजी होगी कि वायरस पूरी तरह कब खत्म होगा। समय-समय पर ये अपना असर दिखा सकता है। इसलिए, हमें पर्सनल हाइजीन और फिजिकल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना है।

जरा सी लापरवाही से स्थिति बिगड़ सकती है

कई राज्यों में लगातार संक्रमण डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि मैं राज्यों के मुख्यमंत्रियों से लगातार संपर्क में हूं। वे संक्रमण रोकने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। ये इस बात पर भी निर्भर होता है कि कम्युनिटी सोशल डिस्टेंसिंग के प्रति कितनी जिम्मेदारी निभा रही है? इन कोशिशों में जरा सी लापरवाही से स्थिति बिगड़ सकती है।

जरूरत के हिसाब से टेस्टिंग

उन्होंने बताया कि अभी जरूरत के हिसाब से टेस्टिंग की जा रही है। जोखिम वाले या फिर बीमारी के लक्षण वाले लोगों को प्रायरिटी दे रहे हैं। स्थिति को देखते हुए समय-समय पर स्ट्रैटजी बदली जाती है। हर रोज 1.60 लाख टेस्ट करने की कैपेसिटी है। अब तक 32 लाख 44 हजार 884 टेस्ट किए गए हैं।