Home राज्य छत्तीसगढ़ विधानसभा में बेमेतरा में स्कूल फर्नीचर खरीद गड़बड़ी का मामला, मंत्री ने...

विधानसभा में बेमेतरा में स्कूल फर्नीचर खरीद गड़बड़ी का मामला, मंत्री ने कहा-जांच होगी

111
फर्नीचर खरीद गड़बड़ी

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज बेमेतरा में फर्नीचर खरीद में गड़बड़ी का भी मुद्दा उठा। कांग्रेस विधायक आशीष छाबड़ा ने ही स्कूलों के लिए फर्नीचर खरीदी में गड़बड़ी की ओर सरकार का ध्यान खींचा। उन्होंने कहा, जिले में बड़े पैमाने पर अनियमितता की गई है। विपक्ष का साथ मिला तो स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने बेमेतरा के जिला शिक्षा अधिकारी को हटाने और मामले की जांच कराने की घोषणा कर दी। वहीं डीईओ को संयुक्त संचालक कार्यालय, दुर्ग से अटैच किया जाएगा।

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेश में खुल रहे स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूलों की संख्या, मान्यता और सेटअप के बारे में सवाल पूछा। जवाब में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने प्रदेश भर में 171 स्कूलों के संचालन शुरू होने की जानकारी दी।
उन्होंने बताया, प्रत्येक ब्लॉक में ऐसा एक स्कूल खोला जा रहा है। इसमें नियुक्ति और प्रतिनियुक्ति की प्रक्रिया जारी है। डॉ. रमन सिंह ने कहा, दुर्ग के पाटन क्षेत्र में एक से अधिक स्कूल कैसे खुल गए हैं, जबकि कई ब्लॉकों में एक भी स्कूल नहीं खुला। संतोषजनक उत्तर नहीं आने पर हंगामा हुआ।

धान उठाव नहीं होने पर भी घिरी सरकार

भाजपा विधायक शिव रतन शर्मा ने पूछा कि प्रदेश की सहकारी समितियों में समर्थन मूल्य पर खरीदा गया कितना धान बचा हुआ है। कितने खरीदी केंद्रों से पूरा धान उठा लिया गया है। जवाब में आदिवासी विकास और सहकारिता मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने बताया, प्रदेश के 22 जिलों में 15 लाख 67 हजार 784 टन धान का उठाव नहीं हो पाया है। इसकी कीमत 29 अरब, 44 करोड़ 29 लाख 85 हजार 379 रुपए होती है।