Home खेल क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को हराकर भारत बॉक्सिंग टेस्ट में 2-1 से आगे, ईशांत शर्मा...

ऑस्ट्रेलिया को हराकर भारत बॉक्सिंग टेस्ट में 2-1 से आगे, ईशांत शर्मा ने लिया आखिरी विकेट

2
ऑस्ट्रेलिया को हराकर भारत बॉक्सिंग टेस्ट में 2-1 से आगे, ईशांत शर्मा ने लिया आखिरी विकेट

मेलबर्न. भारतीय क्रिकेट टीम ने तीसरे टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया को 137 रनों से हराकर चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-1 से बढ़त हासिल कर ली है। मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (MCG) पर खेले गए इस मैच में पांचवें और आखिरी दिन रविवार (30 दिसंबर) को भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी 261 रनों पर समाप्त कर यह जीत हासिल की। बारिश के कारण सुबह के सत्र में एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी थी।

भारत ने अंतिम दिन सिर्फ 4.3 ओवर में बाकी बचे दो विकेट चटकाकर जीत की औपचारिकता पूरी की। जसप्रीत बुमराह ने दूसरी पारी में 53 रन देकर तीन जबकि मैच में 86 रन देकर नौ विकेट चटकाए जिसके लिए उन्हें ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया।

पैट कमिंस की साहसिक पारी

भारत ने अपनी दूसरी पारी के आधार पर ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 399 रनों का लक्ष्य दिया था। इस लक्ष्य को हासिल करने उतरी ऑस्ट्रेलिया ने चौथे दिन आठ विकेट के नुकसान पर 258 रन बनाए थे। पैट कमिंस (63) और नाथन लॉयन (7) नाबाद थे। इसके बाद, पांचवें और आखिरी दिन का पहला सत्र बारिश के कारण बाधित रहा और ऐसे में पहले सत्र में एक भी गेंद नहीं फेंकी गई। इसके साथ ही भोजनकाल की घोषणा कर दी गई।

INDvAUS मेलबर्न में भारत की ऐतिहासिक जीत, पांच दिन के ये रहे 5 हीरो

दूसरे सत्र में अपने बाकी बचे 141 रनों के लक्ष्य को हासिल करने उतरी ऑस्ट्रेलिया के लिए कमिंस और नाथन ने 46 रन ही जोड़े थे कि जसप्रीत बुमराह ने कमिंस को चेतेश्वर पुजारा के हाथों कैच आउट करा टीम का विकेट गिरा दिया। कमिंस ने इस पारी में ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे अधिक रन बनाए। उन्होंने अपनी पारी में खेली गईं 114 गेंदों में पांच चौके और एक छक्का लगाया। शॉन मार्श (44), ट्रेविस हेड (34), उस्मान ख्वाजा (33) और टिम पेन (26) अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहे।

इशांत शर्मा ने लिया आखिरी विकेट

इसके बाद, 10वें विकेट के लिए नाथन का साथ देने उतरे जोश हेजलवुड (0) को इशांत शमार् ने एक भी रन जोड़ने का मौका नहीं दिया। इशांत ने नाथन को 261 के स्कोर पर आउट करने के साथ ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी समाप्त कर दी और भारत ने 137 रनों से जीत हासिल की। नाथन विकेट के पीछे खड़े ऋषभ पंत के हाथों लपके गए।

भारत के लिए इस पारी में जसप्रीत बुमराह और रवींद्र जडेजा ने सबसे अधिक तीन-तीन विकेट लिए, वहीं मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा को दो-दो विकेट मिले।

ऋषभ पंत बने भारत के सबसे सफल विकेटकीपर

नाथन लॉयन के रूप में ऋषभ पंत ने सीरीज में 20वां शिकार बनाया। वह किसी टेस्ट सीरीज में भारत की ओर से सबसे सफल विकेटकीपर बन गए हैं। पंत की यह तीसरी टेस्ट सीरीज ही है। ऋषभ पंत से पहले यह रिकॉर्ड संयुक्त रूप से पूर्व विकेटकीपर सैयद किरमानी और महेंद्र सिंह धौनी के नाम था। किरमानी और धौनी ने एक टेस्ट सीरीज में विकेट के पीछे 17-17 कैच लपके थे।