Home खेल क्रिकेट भारतीय टीम ने 70 साल बाद ऑस्ट्रेलिया में सीरिज जीतकर रचा इतिहास

भारतीय टीम ने 70 साल बाद ऑस्ट्रेलिया में सीरिज जीतकर रचा इतिहास

6
भारतीय टीम ने 70 साल बाद ऑस्ट्रेलिया में सीरिज जीतकर रचा इतिहास

सिडनी. भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच जारी चौथे और आखिरी टेस्ट मैच के पांचवें दिन सोमवार (7 जनवरी) का खेल बारिश के कारण धुल गया और अधिकारियों ने इसे रद्द करने की घोषणा की। ऐसे में भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम की है। इस जीत के साथ विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया ने 71 साल बाद नया इतिहास रचा है। भारतीय टीम ने 70 साल बाद ऑस्ट्रेलिया में उसके खिलाफ सीरीज में जीत हासिल की है। इसी के साथ टीम इंडिया ऐसी पहली एशियाई टीम भी बन गई है, जिसने ऑस्ट्रेलियाई धरती पर टेस्ट सीरीज जीती है।

चेतेश्वर पुजारा को ‘मैन ऑफ द मैच’ और ‘मैन ऑफ द सीरीज’ चुना गया। भारत को ऑस्ट्रेलिया में पहली टेस्ट सीरीज जीत के लिए 11 सीरीज का इंजतार करना पड़ा था और 12वीं सीरीज में वह जीत दर्ज कर पाया। भारत ने 1947-48 में पहली बार ऑस्ट्रेलिया का टेस्ट सीरीज के लिए दौरा किया था और उस समय से वह एक भी टेस्ट सीरीज नहीं जीत पाया था।

ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतने वाले कप्तान बने विराट कोहली

चार मैचों की सीरीज में भारत पहले से ही 2-1 की बढ़त बनाई हुई थी। यह मैच रद्द हुआ और भारत इस सीरीज को अपने नाम करने में सफल रहा। इसी के साथ विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीतने वाले पहले भारतीय कप्तान भी बन गए है। बतौर कप्तान बिशन सिंह बेदी ने यहां सीरीज के दो मैच जीते थे। बता दें कि ऑस्ट्रेलिया में अबतक सिर्फ 5 कप्तान ही टेस्ट मैच जीत पाए हैं। 1977-78 में बिशन सिंह बेदी, 1981 में सुनील गावस्कर, 2003 में सौरव गांगुली, 2008 में अनिल कुंबले और अब मौजूदा सीरीज में विराट कोहली। विराट कोहली ने सीरीज जीतकर बेदी, गावस्कर, गांगुली, कुंबले सबको पीछे छोड़ दिया है।

विराट कोहली बने ऐसे पहले कप्तान

विराट कोहली किसी भी एशियाई टीम के पहले कप्तान बन गए हैं,जिन्होंने इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका में टेस्ट मैच जीता हो। वहीं, भारतीय टीम एक कैलेंडर ईयर (2018) में इन तीनों देशों में टेस्ट मैच जीतने वाली पहली एशियाई टीम है।

कुलदीप यादव की शानदार गेंदबाजी के मुरीद हुए दिग्गज, शेन वॉर्न ने कही बड़ी बात

भारत ने एडिलेड में पहला टेस्ट मैच 31 रन से जीता था। ऑस्ट्रेलिया ने पर्थ में दूसरे टेस्ट मैच में 146 रन से जीतकर वापसी की, लेकिन भारत ने मेलबर्न में तीसरा मैच 137 रन से जीता और सीरीज में 2-1 की बढ़त बनाई जो आखिर में निर्णायक साबित हुई।

सिडनी में भी हुई विराट कोहली की हूटिंग, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने फैन्स को लगाई फटकार

दिन का खेल शुरू होने से पहले ही बारिश आ गई जो लगातार जारी रही। इसी वजह से पहले सत्र में एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी और समय अनुसार भोजनकाल की घोषणा कर दी गई, लेकिन इसके बाद भी बारिश नहीं रुकी और मैच को रद्द कर दिया गया। इससे पहले चौथे दिन भी बारिश ने मैच में दखल दिया था और खेल शुरू होने में देरी हुई थी। मैच के दौरान भी बारिश ने खलल डाला था और इसी कारण चौथे दिन का खेल जल्दी खत्म कर दिया गया था।

पूर्व कंगारू कप्तान ने कहा- विराट कोहली के साम्राज्य के अनमोल रत्न हैं चेतेश्वर पुजारा
भारत ने अपनी पहली पारी सात विकेट के नुकसान पर 622 रनों पर घोषित कर दी थी और ऑस्ट्रेलिया को चौथे दिन पहली पारी में 300 रनों पर ही ढेर कर दिया था। भारत पर पहली पारी के आधार पर 322 रनों की बढ़त थी और उसने मेजबान टीम को फॉलोऑन देने का फैसला किया था।