Home बड़ी ख़बर जेट कर्मचारियों की मांग- फाउंडर नरेश गोयल और सीईओ के खिलाफ दर्ज...

जेट कर्मचारियों की मांग- फाउंडर नरेश गोयल और सीईओ के खिलाफ दर्ज हो एफआईआर

7
जेट कर्मचारियों की मांग

मुंबई। जेट एयरवेज के कर्मचारी संगठन ने पुलिस के सामने मांग रखी कि एयरलाइन के फाउंडर नरेश गोयल, सीईओ विनय दुबे और एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए। एसबीआई जेट के कर्जदाता बैंकों का नेतृत्व कर रहा है और एयरलाइन के रेजोल्यूशन प्लान पर काम कर रहा है। जेट एयरवेज के कर्मचारी सैलरी नहीं मिलने से नाराज हैं।

जेट के ऑल इंडिया ऑफिसर्स एंड स्टाफ एसोसिएशन के प्रमुख किरण पावसकर ने सहार पुलिस स्टेशन में शिकायत दी। उन्होंने कहा कि एयरलाइन ने कर्मचारियों का मार्च का वेतन नहीं दिया है। इसलिए धोखाधड़ी, भरोसा तोड़ने, फंड के दुरुपयोग और दूसरे अपराधों के तहत मामला दर्ज किया जाए।

कर्मचारियों ने मार्च निकाला

इससे पहले पावसकर के नेतृत्व में 200 कर्मचारियों ने एयरपोर्ट से जेट एयरवेज के मुख्यालय सिरोया सेंटर तक मार्च निकाला। कर्मचारियों की सीनियर मैनेजमेंट से मुलाकात भी हुई। हालांकि, वो सीईओ विनय दुबे से मिलना चाहते थे।

जेट के प्रबंधन से मुलाकात के पहले पावसकर ने कर्मचारियों को संबोधित किया। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार की नीतियों की वजह से जेट एयरवेज की हालत बिगड़ी है। एयरलाइन की जो थोड़ी-बहुत कमाई हो रही है वो यात्रियों की राशि लौटाने में इस्तेमाल की जा रही है।

आर्थिक संकट से जूझ रही जेट एयरवेज की उड़ानें रद्द होने से यात्री भी परेशान हैं। एयरलाइन ने शुक्रवार को कहा कि अंतरराष्ट्रीय उड़ानें सोमवार तक रद्द रहेंगी। इससे पहले गुरुवार को एक दिन के लिए बंद करने की बात कही गई थी।

जेट के हालात पर चर्चा करने के लिए पीएमओ ने शुक्रवार को बैठक बुलाई। इससे पहले उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने उड्डयन सचिव प्रदीप सिंह खरोला को जेट के हालातों की समीक्षा करने के निर्देश दिए थे। पीएमओ की बैठक के बाद खरोला ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जेट एयरवेज के प्रबंधन से बात की।

खरोला ने बताया कि शुक्रवार को जेट के 11 विमानों ने उड़ान भरी। शनिवार और रविवार को यह संख्या 6 से 7 रहेगी। उनसे पूछा गया कि सोमवार तक संचालन के लिए जेट के पास क्या पर्याप्त फंड उपलब्ध है। इस पर खरोला ने सकारात्मक जवाब दिया। एजेंसी