Home देश किसान आंदोलनः सोनीपत के कुंडली बार्डर पर धरने में शामिल 2 किसानों...

किसान आंदोलनः सोनीपत के कुंडली बार्डर पर धरने में शामिल 2 किसानों की मौत, एक की हालत नाजुक

17
किसान आंदोलन

सोनीपत। केंद्रीय कृषि कानून के विरोध में आज 40वें दिन भी किसानों का आंदोलन जारी है। इस बीच कुंडली बार्डर पर चल रहे किसान आंदोलन में भाग लेने आए दो और किसानों की मौत हो गई है। पुलिस की शुरूआती जांच में सामने आया है कि किसान बलवीर सिंह गोहाना क्षेत्र व किसान निर्भय सिंह पंजाब के गांव लिदवा के रहने वाले हैं। पुलिस ने बताया कि सुबह को गोहाना के गांव गंगाना के रहने वाले किसान बीवीर सिंह की मौत की सूचना आई।

किसानों ने पुलिस को बताया कि वह शनिवार शात तक स्वस्थ्य थे, केवल थोड़ी थकान महसूस कर रहे थे। रात में खाना खाने के बाद पारकर माल के पास टैंट में सो गए थे। सुबह नहीं उठने पर उनके साथी किसानों ने जगाने का प्रयास किया तो शरीर में कोई हलचल नहीं थी। इसकी सूचना किसान आंदोलन में तैनात चिकित्सक को दी गई। चिकित्सक ने किसान को मृत घोषित कर दिया।

कुछ ही देर बाद पंजाब के जिला संगरूर के गांव लिदवा निवासी किसान निर्भय सिंह की हालत खराब हो गई। उनको तत्काल सिविल अस्पताल भेजा गया, जहां पर उनको मृत घोषित कर दिया गया। उसके आधे घंटे बाद ही गोहाना के गांव गंगाना के किसान युधिष्ठर सिंह को हार्ट अटैक आ गया। उनको तत्काल सिविल अस्पताल ले जाया गया। जहां से हालत गंभीर होने के चलते उनको पीजीआइ रैफर कर दिया गया।

सर्दी लगने से हृदयाघात से मौत की आशंका

पुलिस को आशंका है कि इन किसानों की मौत सर्दी लगने से हृदयाघात के कारण हो सकती है। मौत के वास्तविक कारणों की जानकारी पोस्टमार्टम के बाद हो हो सकेगी। अभी तक आंदोलन में नौ किसानों की मौत हो चुकी है। बता दें कि दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर पर किसानों का धरना प्रदर्शन एक महीने से अधिक समय से जारी है। प्रदर्शन में ज्यादातर किसान पंजाब और हरियाणा से हैं। फिलहाल किसानों और सरकार के बीच वार्ता चार जनवरी को प्रस्तावित है।