Home देश लापता नजीब को सीबीआई भी नहीं खोज पाई, हाईकोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट...

लापता नजीब को सीबीआई भी नहीं खोज पाई, हाईकोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल करने का लिया निर्णय

42
लापता नजीब को सीबीआई भी नहीं खोज पाई, हाईकोर्ट में क्लोजर रिपोर्ट दाखिल करने का लिया निर्णय

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी को जेएनयू छात्र नजीब अहमद के गुमशुदगी मामले में कुछ भी हाथ नहीं लगा। लगभग दो साल से गायब नजीब का पता लगाने में असफल रही सीबीआई अब इस मामले को बंद करने की तैयारी में है। उच्च न्यायालय में मंगलवार को सीबीआई ने यह जानकारी दी।

जस्टिस एस. मुरालीधर और विनोद गोयल की पीठ के समक्ष सीबीआई ने कहा कि पुलिस ने जिन पहलुआें को छोड़ दिया था हमने उन सभी पहलुओं और संभावनाओं की जांच की है। सीबीआई ने बताया कि जांच पूरी होने के बावजूद कुछ भी उसके हाथ नहीं लगा।

अधिवक्ता निखिल गोयल ने कहा कि सीबीआई ने संबंधित अदालत में अपराध प्रक्रिया संहिता की धारा 169 के तहत रिपोर्ट यानी क्लोजर रिपोर्ट दाखिल करने का निर्णय लिया है। मगर, अभी क्लोजर दाखिल नहीं की गई है क्योंकि इससे पहले वह हाईकोर्ट संज्ञान में लाना चाहती थी।

याचिका का निपटारा करने की मांग : हाईकोर्ट को यह जानकारी देते हुए सीबीआई की ओर से अधिवक्ता निखिल गोयल ने नजीब का पता लगाने के उसकी मां द्वारा दाखिल याचिका का निपटारा करने की मांग की। सीबीआई ने कहा कि याचिका का निपटारा होने के बाद वह संबंधित अदालत में इस मामले को बंद करने के लिए क्लोजर रिपोर्ट दाखिल करेगी।

सीबीआई की इस दलील का नजीब की मां फातिमा नफीस की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता कोलिन गोंसालविश ने कड़ा विरोध किया। उन्होंने सीबीआई पर मामले की निष्पक्ष जांच नहीं करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि सीबीआई ने इस मामले की जांच से जुड़ी कोई भी जानकारी पीड़ित परिवार के साथ साझा नहीं किया। इसके बाद हाईकोर्ट ने इस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया।


विशेष जांच दल गठित होः गुमशुदा नजीब की मां फातिमा नफीस ने हाईकोर्ट से अब इस मामले में विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित करने की मांग की है। इस पर हाईकोर्ट ने उनसे लिखित में पक्ष रखने और एसआईटी की कानून मान्यता को लेकर अपनी बात रखने को कहा है।