Home देश मुलायम के अंतिम दर्शन के लिए लाखों लोग उमड़े, सैफई में होगा...

मुलायम के अंतिम दर्शन के लिए लाखों लोग उमड़े, सैफई में होगा अंतिम संस्कार, सीएम भूपेश समेत कई नेता शामिल होंगे

61
मुलायम के अंतिम दर्शन के लिए लाखों लोग उमड़े, सैफई में होगा अंतिम संस्कार, सीएम भूपेश समेत कई नेता शामिल होंगे

लखनऊ। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का मंगलवार को सैफई में अंतिम संस्कार होगा। नेताजी के अंतिम दर्शन के लिए एक लाख से ज्यादा लोग पहुंचे हैं। अभी उनकी पार्थिव देह को आखिरी विदाई के लिए यहां के मेला ग्राउंड ले जाया गया है। दोपहर 3 बजे तक यहां आम लोग दर्शन कर सकेंगे। इसके बाद नेताजी का अंतिम संस्कार होगा। इसमें छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल समेत कई बड़े नेता शामिल होंगे।

मुलायम के अंतिम संस्कार के लिए सैफई में बारिश के बीच प्लेटफॉर्म बनाया। रातोंरात इस प्लेटफॉर्म को बनाने के लिए लोगों और मशीनों ने लगातार काम किया। 50 मजदूर रातभर लगे रहे। मुलायम की पत्नी मालती देवी के मेमोरियल के करीब ही 3 फीट ऊंचा प्लेटफॉर्म बनाया गया है। 30Û30 फीट की इस जगह में 10 हजार ईंटें लगाई गई हैं। मालती देवी की 2003 में मृत्यु हो गई थी। मेलाग्राउंड में ही 5 साल पहले तक सैफई महोत्सव होता था।

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार चंदन की लकड़ियों से किया जाएगा। कन्नौज के फूलों से उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है। इत्र नगरी से लकड़ियों और फूलों की खेप लेकर सपा नेता सैफई पहुंच गए हैं।

राजनाथ, ममता, चंद्रबाबू, गहलोत मौजूद रहेंगे

आंध्र प्रदेश के पूर्व सीएम चंद्रबाबू नायडू, भाजपा सांसद रीता बहुगुणा जोशी और अन्य नेताओं ने अंतिम श्रद्धांजलि दी। भारत जोड़ो यात्रा बीच में छोड़ कर राहुल गांधी और प्रियंका गांधी भी सैफई पहुंच सकते हैं। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, पश्चिम बंगाल की ब्ड ममता बनर्जी, बिहार के डिप्टी ब्ड तेजस्वी यादव, राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत, ​सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर, श्रक्न् नेता केसी त्यागी और न्च् कांग्रेस अध्यक्ष बृजलाल खाबरी भी अंतिम संस्कार में शामिल होंगे।

घर के बाहर रात से सुबह तक जमा रहे हजारों कार्यकर्ता

नेताजी के अंतिम दर्शन के लिए शाम से ही लोग सैफई पहुंचने लगे थे। पार्टी के कार्यकर्ताओं ने भास्कर से कहा कि देर रात करीब 5 हजार लोग उनके घर के बाहर थे। लोगों ने श्जब तक सूरज-चांद रहेगा, नेताजी का नाम रहेगाश् नारे लगाए। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार शाम ही सैफई पहुंचे और नेताजी को श्रद्धांजलि दी।