Home देश देश में 5जी का शुभारंभ, पीएम मोदी बोले- आज 21वीं सदी की...

देश में 5जी का शुभारंभ, पीएम मोदी बोले- आज 21वीं सदी की सबसे बड़ी शक्ति का आगाज

38
देश में 5जी का शुभारंभ, पीएम मोदी बोले- आज 21वीं सदी की सबसे बड़ी शक्ति का आगाज

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इंडिया मोबाइल कांग्रेस के छठे एडिशन में 5जी सर्विस का शुभारंभ किया। पहले फेज में 13 शहर अहमदाबाद, बेंगलुरु, चंडीगढ़, चेन्नई, दिल्ली, गांधीनगर, गुरुग्राम, हैदराबाद, जामनगर, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई और पुणे में 5ळ कनेक्टिविटी की शुरुआत होगी। इसके बाद 5जी को देश के हर हिस्से में पहुंचाया जाएगा। आईएमसी 2022 कार्यक्रम चार अक्तूबर तक चलने वाला है। इसके आधिकारिक एप से भी लाइव देखा जा सकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आईएमसी 2022 को संबोधित करते हुए कहा कि टेक्नोलॉजी एक नशा है, इसका इस्तेमाल सही तरीके से करें। आज देश के 200 से अधिक मोबाइल बनाने वाली कंपनियां हैं। पहले हम मोबाइल का आयात कर रहे थे और आज निर्यात कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज की तेजी से बदलती दुनिया में भारत को शीर्ष पर चढ़ने से कोई रोक नहीं पाएगा। इस स्थान पर हमारा अधिकार है। भारत और भारतीय इससे कम पर समझौता नहीं कर सकते। चौथी अधोगिक क्रांति का नेतृत्व भारत करेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत में 5जी का रोलआउट भारत के दूरसंचार इतिहास में कोई सामान्य घटना नहीं है। यह 140 करोड़ भारतीयों की उम्मीदों और उच्च आकांक्षाओं को अपने कंधे पर उठाए हुए है। 5जी के साथ, भारत सब का डिजिटल साथ और सब का डिजिटल विकास की दिशा में मजबूत कदम उठाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मैं आज पूरे दिल से कह सकता हूं कि भारतीय दूरसंचार उद्योग के रूप में, हमने जो प्रदर्शित किया है, उसपर मुझे बहुत गर्व है। सीओएआई और डीओटी दोनों से मैं कह सकता हूं कि अब हम नेतृत्व को तैयार हैं और भारतीय मोबाइल कांग्रेस को अब एशियन मोबाइल कांग्रेस और ग्लोबल मोबाइल कांग्रेस बन जाना चाहिए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा 21वीं सदी की सबसे बड़ी शक्ति का आगाज हुआ। इससे देश के टेक्नोलॉजी सेक्टर में क्रांति आएगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा तकनीकी क्षेत्र में भारत किसी पर निर्भर नहीं रहेगा। डिजिटल इंडिया देश के विकास का विजन है। देश में 5जी सेवा की मदद से इंटरनेट की स्पीड 10 गुना बढ़ जाएगी और बच्चे नए युग का हिस्सा बनेंगे।