Home साइंस एंड टेक्नोलॉजी टुडे स्पेशल जानें सीएए, विरोध और युवाओं पर मन की बात में क्या बोले...

जानें सीएए, विरोध और युवाओं पर मन की बात में क्या बोले पीएम मोदी

37
मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मन की बात कार्यक्रम के 60वें एपिसोड में जनता को संबोधित किया। पीएम मोदी ने रविवार को इस साल के आखिरी मन की बात कार्यक्रम में नागरिकता संशोधन कानून, उसके विरोध और इन सबके बीच युवाओं को लेकर बात की। उन्होंने कहा कि देश का युवा अराजकता से दूर रहना पसंद करता है, उसे इससे नफरत है।

बता दें, यह कार्यक्रम हर रविवार को सुबह 11 बजे आकाशवाणी पर प्रसारित होता है। आइए जानते हैं आज पीएम मोदी मन की बात में और क्या बात की। पीएम मोदी ने सभी देशवासियों को नए साल की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि हमारे देश के युवाओं को अराजकता से नफरत है, वे भेदभाव को पसंद नहीं करते हैं। हम सब जानते हैं कि युवा पीढ़ी बहुत प्रतिभाशाली है। यह सोशल मीडिया का युग है। लोग सिस्टम को फॉलो करते है और अगर वह सही ना काम कर रहा हो तो बेचैन भी होते हैं।

उन्होंने कहा कि मेरा मानना ​​है भारत के लिए आने वाला दशक केवल युवाओं के विकास के लिए नहीं होगा, बल्कि युवाओं की क्षमताओं से प्रेरित राष्ट्र का विकास भी होगा। पीएम मोदी ने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने कहा था कि हमारा विश्वास युवा पीढ़ी में है। उन्होंने कहा, युवावस्था की कीमत को न तो आंका जा सकता है और न ही उसका वर्णन किया जा सकता है। यह सबसे मूल्यवान कालखंड है।

आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहे कदम

पीएम मोदी ने आज देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए हो रही कोशिशों पर कहा कि बिहार के पश्चिमी चंपारण की एक कहानी मैं बताए बिना रह नहीं सकता। यहां भैरवगंज हेल्थ सेंटर में लोग हेल्थ चेकअप कराने आए। यह कार्यक्रम सरकार का नहीं था बल्कि यह एक स्कूल के पुराने छात्रों द्वारा उठाया गया कदम था। इसका नाम संकल्ब 85 था। 1985 बैच के विद्यार्थियों ने एल्युमनाई मीट रखी और कुछ करने का विचार किया।

गांधी जी का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री बोले कि गांधी जी ने आत्मनिर्भर बनने के लिए यही रास्ता दिखाया था। जिस आजाद भारत में हम सांस ले रहे हैं, इसके लिए बहुत सारे लोगों ने बलिदान दिया है। हम आज आजाद जिंदगी जी रहे हैं। देश के लिए जीवन खपाने वाले अनगिनत लोगों ने बलिदान दिया और आजाद भारत के सपनों को लेकर जिए।

कश्मीरी युवाओं को हिमायत ने दिखाया रास्ता

पीएम मोदी ने जम्मू कश्मीर में चल रहे हिमायत कार्यक्रम का जिक्र करते हुए कहा कि हिमायत कार्यक्रम लोगों की जिंदगी बदल रहा है। ग्रामीण इलाकों में यह लोगों को आत्मनिर्भर बना रहा है।जम्मू कश्मीर में हिमायत कार्यक्रम लोगों को नौकरी दिलाने का काम कर रहा है। इसने जम्मू-कश्मीर के लोगों, युवाओं को आगे बढ़ाने का काम किया है।