Home बिलासपुर संभाग जांजगीर - चाम्पा लोकसभा चुनावः पहले चरण की तैयारी पूरी, नक्सल क्षेत्र में मतदान दल...

लोकसभा चुनावः पहले चरण की तैयारी पूरी, नक्सल क्षेत्र में मतदान दल रवाना

87
लोकसभा चुनाव

रायपुर/बीजापुर/जांजगीर-चांपा। लोकसभा चुनाव के लिए मतदान की तारीख नजदीक आ रही है। देश में सात चरणों के तहत आम चुनाव संपन्‍न होना है, जिसमें पहले चरण के तहत होने वाली वोटिंग में महज तीन दिन रह गए हैं। आम चुनाव के लिए पहले चरण के तहत 11 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। इस बीच निर्वाचन आयोग मतदाताओं को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए तमाम कदम उठा रहा है।

बीजापुर में मतदान दल रवाना

बीजापुर में लोकसभा चुनाव की तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई है। यहां पहले चरण में 11 अप्रैल को मतदान होने हैं। मतदान से तीन दिन पहले 50 मतदान दल रवाना किया गया है। इसमें 40 दलों को हवाई और 10 दलों को सड़क मार्ग से भेजा गया है।

नारायणपुर, दंतेवाड़ा, बीजापुर और सुकमा जिले के अंदरूनी इलाकों में मतदान कराने के लिए करीब 200 अधिकारी-कर्मचारियों का दल वायुसेना के एमआई 17 हेलीकॉप्टर के जरिए अपने-अपने ड्यूटी वाले इलाके में पहुंचा। अब तीन दिनों तक दल के सदस्य सुरक्षा बलों के स्थानीय कैंप में रहेंगे और मतदान के दिन अपनी ड्यूटी पूरी कर वापस लौटेंगे।

जांजगीर-चांपा में 2 हजार 172 केंद्रो पर होगी वोटिंग

जांजगीर-चांपा लोकसभा क्षेत्र के 2 हजार 172 मतदान केन्द्रों में 8 हजार 880 अधिकारी-कर्मचारी मतदान करायेंगे। इनमें पीठासीन अधिकारी दो हजार 172, मतदान अधिकारी क्रमांक-1, 2 और 3 के 2 हजार 172 तैनात रहेंगे। वहीं संगवारी मतदान केन्द्रों के 160 महिला अधिकारी- कर्मचारी और दिव्यांग मतदान केन्द्रों के 32 दिव्यांग मतदान अधिकारी-कर्मचारी की ड्यूटी रहेगी। इसके अलावा 438 अधिकारी-कर्मचारियों को रिजर्व में रखा गया है। मतदान केंद्रों में मतदान सम्बन्धी आवश्यक व्यवस्था की तैयारी कर ली गई है। जांजगीर के पालीटेक्निक भवन को स्ट्रांग रूम बनाया गया है। लोकसभा क्षेत्र में मतदाता जागरूकता लाने के साथ ही, मतदान को लेकर प्रशिक्षण भी हो चुका है।

चुनाव आयोग की तैयारी पूरी

आम चुनाव को देश का महात्‍यौहार करार देते हुए निर्वाचन आयोग ने मतदाताओं को जागरूक करने के उद्देश्‍य से एक जानकारी एवं सहायता पुस्तिका भी जारी की है, जिसमें योग्‍य मतदाताओं को पंजीकरण से लेकर अन्‍य तमाम तरह की जानकारियां दी गई हैं। कोई मतदाता न छूटे के स्‍लोगन के साथ चुनाव आयोग ने इस पुस्तिका में बताया है कि वोटर बनने की योग्‍यता क्‍या है और पहली बार वोटर की योग्‍यता हासिल करने वाले लोगों को अपना मतदाता पहचान-पत्र बनवाने के लिए क्‍या करना चाहिए।