Home राज्य छत्तीसगढ़ राजनांदगांव सांसद फरार घोषित होने के मामले में लोकसभा सचिवालय ने डीजीपी...

राजनांदगांव सांसद फरार घोषित होने के मामले में लोकसभा सचिवालय ने डीजीपी से मांगा जवाब

87
राजनांदगांव सांसद

रायपुर। राजनांदगांव के भाजपा सांसद संतोष पांडे को फरार घोषित करने के मामले में लोकसभा सचिवालय ने अब सख्त रुख अपनाया है। इस सम्बन्ध में 15 दिनों में डीजीपी से जवाब मांगा गया है। सचिवालय ने छत्तीसगढ़ के डीजीपी अशोक जुनेजा को पत्र लिखकर पूरे मामले की रिपोर्ट तलब की है। इसमें कवर्धा एसपी की भूमिका से लेकर अन्य विषयों पर विस्तार से जानकारी मांगी है। पुलिस ने सांसद की संपत्ति की भी जानकारी मांगी है।

गौरतलब कवर्धा पुलिस ने सांसद संतोष पांडेय को फरार घोषित किया है। इसे लेकर लोकसभा में 25 जनवरी को छह सांसदों के हस्ताक्षर के साथ विशेषाधिकार हनन का नोटिस दिया गया था। दरअसल, कवर्धा में झंडा विवाद के बाद पुलिस ने संतोष पांडेय और पूर्व सांसद अभिषेक सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। इसमे 2 महीने बाद पुलिस ने दोनों को फरार घोषित कर दिया।

इस मामले को लेकर छत्तीसगढ़ के सांसदों के प्रतिनिधिमंडल ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला से विशेषाधिकार हनन की शिकायत की थी। लोकसभा सचिवालय ने क्ळच् से पूछा है कि जब सांसद के सार्वजनिक कार्यक्रम की जानकारी पुलिस के पास है, ऐसे में फरार कैसे घोषित किया गया। यही नहीं, सांसद पांडेय के खिलाफ जो धाराएं लगाई गईं, वे किस अधार पर लगाई गईं।