Home देश पंजाब कांग्रेस में कलह के बीच असंतुष्टों को संदेश, पंजाब में कैप्टन...

पंजाब कांग्रेस में कलह के बीच असंतुष्टों को संदेश, पंजाब में कैप्टन ही बॉस

41
पंजाब कांग्रेस

नई दिल्ली। कांग्रेस नेतृत्व ने पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए कैप्टन अमरिंदर सिंह को फील्डिंग सजाने की हरी झंडी दिखा दी है। वहीं, नवजोत सिंह सिद्धू के साथ नाराजगी के बाद भी खड़ा दिख रहा गांधी परिवार फिलहाल कोई भी फैसला लेने से पीछे हट गया है। गांधी परिवार के दम पर कैप्टन को खुली चुनौती देने उतरे सिद्धू हाल की बयानबाजी के चलते हिट विकेट हो गए हैं।

मल्लिकार्जुन खरगे, जयप्रकाश अग्रवाल और प्रभारी हरीश रावत की कमेटी अब कैप्टन के साथ चुनावी मुद्दों, कमेटियों और रणनीति बनाने पर काम करेगी। मंगलवार को कमेटी के साथ कैप्टन की चार घंटे तक हुई बैठक के बाद नेतृत्व ने साफ तौर पर असंतुष्ट नेताओं को संदेश दिया है कि पंजाब में कैप्टन ही सर्वेसर्वा और बॉस हैं। तीन सदस्यों की कमेटी के सामने पहुंचे कैप्टन ने यूं तो चुनाव की तैयारियों पर लंबी चर्चा की, लेकिन सिद्धू के बयानों पर कड़ी नाराजगी जताई।

कैप्टन ने नाराजगी जताते हुए कहा कि ऐसी बयानबाजी से पार्टी का नुकसान हो रहा है। राज्य के प्रभारी और समाधान कमेटी के सदस्य हरीश रावत ने भी सिद्धू की बयानबाजी के समय को उचित नहीं ठहराया है। उन्होंने कहा कि सिद्धू में काबिलियत है। कांग्रेस में धीरज रखने का फल मिलता है। उन्होंने उम्मीद जताई कि जल्द ही सब ठीक हो जाएगा। प्रभारी के बयान से साफ है पार्टी नेतृत्व सिद्धू की सार्वजनिक बयानबाजी पर अब और छूट नहीं देने के मूड में नहीं है। अब सिद्धू की क्या भूमिका रहेगी, ये फैसला भी कैप्टन और कमेटी के सदस्यों को ही करना है।