Home राज्य छत्तीसगढ़ सौम्या की गिरफ्तारी पर मंत्री सिंहदेव का बड़ा बयान, गलती हुई है...

सौम्या की गिरफ्तारी पर मंत्री सिंहदेव का बड़ा बयान, गलती हुई है तो कार्रवाई होनी भी चाहिए

22
सौम्या की गिरफ्तारी पर मंत्री सिंहदेव का बड़ा बयान, गलती हुई है तो कार्रवाई होनी भी चाहिए

अंबिकापुर। मुख्यमंत्री की उपसचिव सौम्या चौरसिया की गिरफ्तारी के बाद लगातार कांग्रेस और भाजपा नेताओं के बीच जुबानी जंग जारी है। इस बीच, इस मामले में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव का बड़ा बयान सामने आया है। टीएस सिंहदेव ने अम्बिकापुर में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए ईडी की कार्रवाई पर सवाल जरूर उठाया है, लेकिन उनका बयान बहुत सधा हुआ है।

आवास पर मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि जो चीजें जानकारी में नहीं रहती हैं उस आधार पर व्यक्ति कहता है कि भ्रष्टाचार नहीं है। अगर जानकारी में बात आ रही है और जांच में साबित होता है तो निश्चित रूप से कार्रवाई होगी और होनी भी चाहिए। लेकिन ईडी की कार्रवाई को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने इस बात को लेकर प्रश्नचिन्ह खड़ा किया है कि आखिर ईडी विपक्ष के नेताओं या उनसे जुड़े हुए लोगों के खिलाफ ही कार्रवाई क्यों कर रही है।

यही नहीं, टीएस सिंहदेव ने भाजपा और उनसे जुड़े हुए लोगों पर कार्रवाई नहीं किए जाने को लेकर भी ईडी पर सवाल खड़ा किया। उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं है कि भाजपा नेताओं से जुड़े हुए लोगों के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप नहीं है। लेकिन उनके खिलाफ ईडी कोई कार्रवाई नहीं करती। सिंहदेव ने कहा कि ईडी और आईटी जैसे स्वस्थ स्वतंत्र संस्थाओं का किस तरह से उपयोग किया जा रहा है। यह अब साफ हो गया है, क्योंकि राजनीतिक फेरबदल के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जा रहा है और कई बार इसमें सफलता भी मिली है।

ईडी की कार्रवाई पर सवाल भी

ईडी की कार्रवाई को लेकर प्रश्नचिन्ह खड़ा करते हुए टीएस सिंहदेव ने कहा कि इन संस्थाओं को स्वतंत्र रूप से कार्य करना चाहिए। सौम्या चौरसिया की गिरफ्तारी और रिमांड पर लिए जाने को लेकर टीएस सिंहदेव ने कहा कि यदि कोई गलती हुई है तो कार्रवाई होनी चाहिए मगर ईडी का द्वेष पूर्ण उपयोग गलत है।