Home बड़ी ख़बर अब चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के पदाधिकारियों को वीजा नहीं देगा अमेरिका…जानिए...

अब चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के पदाधिकारियों को वीजा नहीं देगा अमेरिका…जानिए वजह

4
कम्युनिस्ट पार्टी

वाशिंगटन। हांगकांग के मसले पर अमेरिका खुलकर चीन के विरोध में आ गया है। अमेरिका ने चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी (सीसीपी) के पदाधिकारियों को वीजा नहीं देने का फैसला किया है। वीजा प्रतिबंध के दायरे में उनके परिवार के सदस्य भी आ सकते हैं। यह कार्रवाई हांगकांग की स्वायत्तता, मौलिक आजादी और मानवाधिकारों के उल्लंघन के विरोध में किया गया है।

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा कि वह राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के आदेश का एलान कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं सीसीपी के मौजूदा और पूर्व पदाधिकारियों पर वीजा प्रतिबंध लगाने की घोषणा कर रहा हूं, जो हांगकांग की वृहद स्वायत्तता कम करने के लिए जिम्मेदार है, जिसकी 1984 में चीन-ब्रिटेन के संयुक्त घोषणापत्र में गारंटी दी गई थी।

इसलिए की गई कार्रवाई

पोंपियो ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप ने हांगकांग की आजादी को खत्म करने के लिए जिम्मेदार सीसीपी के पदाधिकारियों को दंडित करने का वादा किया था। आज, हम उसी दिशा में कार्रवाई कर रहे हैं। सीसीपी ने हांगकांग की प्रशासनिक व्यवस्था पर चीन को नजर रखने का अधिकार देकर, उसकी विधान परिषद के एक सदस्य पर कदाचार का आरोप लगाकर और मनमाने तरीके से उस पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून थोपकर उसकी स्वायतता को कम करने की कोशिश की है।