Home राज्य छत्तीसगढ़ बीजापर में कैंप का विरोध कर रहे ग्रामीणों पर पुलिस ने बरसाईं...

बीजापर में कैंप का विरोध कर रहे ग्रामीणों पर पुलिस ने बरसाईं लाठियां, एसपी का इंकार

17
बीजापर में कैंप का विरोध कर रहे ग्रामीणों पर पुलिस ने बरसाईं लाठियां, एसपी का इंकार

बीजापुर। नक्सलगढ़ में एक बार फिर पुलिस की लाठियां से ग्रामीणों ने दर्द महसूस किया है। जानकारी के अनुसार बीजापुर जिले के धुर नक्सल प्रभावित बुरजी-पुसनार गांव में ग्रामीण पिछले कई दिनों से पुलिस कैंप के विरोध में आंदोलन कर रहे हैं। इस दौरान पुलिस लाठीचार्ज का मामला सामने आया है।इस बीच, ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि पुलिस की लाठीचार्ज की वजह से 50 से ज्यादा ग्रामीण घायल हो गए हैं। इन घायलों में 18 छात्र भी शामिल हैं।

बीजापुर एसपी आंजनेय वार्ष्णेय ने गांव वालों की पिटाई करने की बात से साफ़ इंकार किया है। वहीं, पुलिस अफसरों ने कहा कि अंदरूनी इलाकों में सुरक्षाबलों का कैंप स्थापित होने के बाद ही सारे विकास के काम किए जाएंगे।

इसके साथ ही ग्रामीणों ने घायलों की तस्वीरें भी जारी की हैं। जवानों ने गांववालों को आंदोलनस्थल से भगा दिया है। लेकिन ग्रामीण घर नहीं जा रहे बल्कि इलाके के जंगल में ही बैठे हुए हैं। दरअसल, बीजापुर जिले के धुर नक्सल प्रभावित बुरजी-पुसनार गांव में ग्रामीण पिछले कई दिनों लगातार पुलिस कैंप के विरोध में आंदोलन कर रहे हैं। गांव में आंदोलन कर रहे ग्रामीणों का कहना है कि बिना ग्रामसभा की अनुमति से पुसनार में सुरक्षाबल कैंप की स्थापना की गई है।

यही नहीं बिना अनुमति के चौड़ी सड़कें बनाई जा रही है। किसानों के खेत बर्बाद किए जा रहे हैं। ऐसे में गांव वालों ने यह मांग की है कि, पुसनार में बनाए गए पुलिस कैंप को जल्द से जल्द हटाया जाए। इसके साथ इलाके में जितने भी निर्माण काम हो रहे हैं उसे भी बंद किया जाए।