Home दुर्ग संभाग कवर्धा भोरमदेव अभ्यारण में पुलिस नक्सली मुठभेड़, भारी मात्रा में दैनिक उपयोग का...

भोरमदेव अभ्यारण में पुलिस नक्सली मुठभेड़, भारी मात्रा में दैनिक उपयोग का सामान बरामद

24
भोरमदेव अभ्यारण में पुलिस नक्सली मुठभेड़, भारी मात्रा में दैनिक उपयोग का सामान बरामद

कवर्धा। नक्सल विरोधी अभियान के तहत थाना भोरमदेव क्षेत्र के ग्राम बकोदा, दुरदुरी, भंवरटोक के जंगल में प्रतिबंधित माओवादी नक्सलियों के उपस्थिति व अस्थाई केम्प की सूचना मिली थी, जिस पर दिनांक 13-14.03.2019 की देर रात्रि उप पुलिस अधीक्षक नक्सल एवं उप पुलिस अधीक्षक ऑप्स के नेतृत्व में अलग-अलग पुलिस पार्टी थाना भोरमदेव क्षेत्रांतर्गत अभ्यारण में पेट्रोलिंग, सर्चिंग गस्त हेतु रवाना हुई थी।

दिनांक 14.03.2019 को सुबह पुलिस पार्टी सर्चिंग करते हुए ग्राम बकोदा जंगल के पास पहुंचने पर करीब 10ः00 बजे उपर पहाड़ी पर पहले से घात लगाकर बैठे नक्सलियों के द्वारा पुलिस पार्टी के ऊपर अंधाधुंध फायरिंग की गई, जिस पर पुलिस पार्टी के द्वारा आत्मरक्षार्थ जवाबी कार्यवाही की गई। नक्सली अपने ऊपर पुलिस पार्टी का दबाव बढ़ता देख घने जंगल एवं पहाड़ियां का आड़ लेकर भाग गये, जिनका पुलिस पार्टी द्वारा लगातार पीछा किया गया।

घटना स्थल पर मिले खून के धब्बों से नक्सलियों के हताहत होने की संभावना

फायरिंग बंद होने के पश्चात पुलिस पार्टी के द्वारा उक्त घटनास्थल का सर्चिंग करने पर भारी मात्रा में नक्सलियां के दैनिक उपयोग का सामान एवं अन्य बैनर, पोस्टर बरामद हुआ तथा घटनास्थल में खून के धब्बे भी मिले है। जिससे प्रतीत होता है, कि फायरिंग के दौरान कुछ नक्सली पुलिस की जवाबी फायरिंग से गंभीर रूप से घायल हुये है या मारे गये है।

नक्सलियों की उपस्थिति के मद्देनजर जिला के वनांचल क्षेत्रों में लगातार नक्सल विरोधी अभियान चलाया जा रहा है तथा उक्त क्षेत्र में नक्सलियों की विस्तार प्लाटून 02 एवं 03 के सदस्यों की सक्रियता बनी हुई है, जिसकी सूचना पुलिस को प्राप्त हुई थी, जिसके खिलाफ लगातार अभियान जारी रहेगा। उक्त घटना पर से थाना भोरमदेव में प्रतिबंधित माओवादी नक्सलियों के विरूद्व अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया है।

उक्त ऑपरेशन के दौरान सम्मिलित पुलिस जवानों के द्वारा उंचे दर्जे की कार्यवाही करते हुये नक्सलियों को मैदान छोड़ने हेतु मजबूर किया गया, पुलिस जवानां की कार्यवाही के लिये पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग रेंज, दुर्ग एवं उप पुलिस महानिरीक्षक, राजनांदगांव/कबीरधाम के द्वारा प्रशंसा की गई।