Home देश पंजाब कांग्रेस में सियासत, सिद्धू के अध्यक्ष बनाने के बयान के बाद...

पंजाब कांग्रेस में सियासत, सिद्धू के अध्यक्ष बनाने के बयान के बाद हरीश रावत बोले-गलत मतलब निकाला गया

53
पंजाब कांग्रेस

चंडीगढ़। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नहीं बनाने पर अड़ गए हैं। वह इस पद पर एक हिंदू नेता को बैठाने पर राजी हैं। हाईकमान से बात कर कैप्टन ने अपनी नाराजगी जाहिर कर दी है। वहीं सिद्धू ने दिल्ली में सोनिया गांधी से मुलाकात की है।

दो दिन पहले तक पंजाब कांग्रेस में चल रहा विवाद सुलझने के पूरे आसार बन गए थे। आलाकमान और कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच नवजोत सिद्धू को समुचित जगह देने पर सहमति लगभग बन गई थी। इसी बीच पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत का एक बयान आया और बनती बात बिगड़ गई। 

एक मीडिया हाउस को दिए बयान में रावत ने कहा कि पंजाब कांग्रेस में सुलह का फार्मूला तैयार है। सिद्धू को पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष बनाया जा सकता है। चुनाव कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा। इस बयान के बाद कलह फिर शुरू हो गई। नाराज सिद्धू और कैप्टन ने अपने अपने समर्थकों के साथ बैठक की तो रावत ने सोनिया गांधी से मुलाकात की। हालांकि बैठक के बारे में कहा गया कि ये उत्तराखंड मसले पर थी। लेकिन इस बैठक के बाद रावत ने सफाई में कहा कि उनके बयान को अलग तरीके से पेश किया गया।