Home देश राजस्थान सरकार ने विश्वास मत प्रस्ताव रखा, अब भाजपा नहीं अविश्वास प्रस्ताव

राजस्थान सरकार ने विश्वास मत प्रस्ताव रखा, अब भाजपा नहीं अविश्वास प्रस्ताव

39
राजस्थान सरकार

जयपुर। राजस्थान में बगावत थमने के बाद 15वीं विधानसभा का 5वां सत्र शुक्रवार को 11 बजे शुरू हुआ। सरकार ने सदन में विश्वास मत प्रस्ताव रखा। भाजपा ने सुर बदलते हुए कह दिया है वह अविश्वास प्रस्ताव नहीं लाएगी।

मध्य प्रदेश के पूर्व राज्यपाल लालजी टंडन और छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी को श्रद्धांजलि देने के बाद स्पीकर सीपी जोशी ने सदन की कार्यवाही 1 बजे तक के लिए स्थगित कर दी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि राजस्थान की जनता, कांग्रेस विधायकों की एकजुटता और सत्य की जीत होगी।

सदन में बैठक व्यवस्था बदली गई है। डिप्टी सीएम के पद से हटाए जाने के बाद सचिन पायलट अब अशोक गहलोत के बगल वाली सीट पर नहीं बल्कि दूसरी लाइन में बैठे। उनके लिए निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा के बगल वाली 127 नंबर की सीट अलॉट की गई है। गहलोत के पास वाली सीट पर आज मंत्री शांति धारीवाल बैठे।