Home Uncategorized छत्तीसगढ़ के हर मंडल में शाखाएं खोलेगा आरएसएस, जानिए कैसी है तैयारी

छत्तीसगढ़ के हर मंडल में शाखाएं खोलेगा आरएसएस, जानिए कैसी है तैयारी

67
आरएसएस

रायपुर। छत्तीसगढ़ में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ आरएसएस अब अपना संगठन बढ़ाने की नए स्तर से तैयारी कर रहा है। इसके लिए प्रदेश में आरएसएस अब हर मंडल स्तर पर शाखाएं खोलेगा। यहां नियमित रूप से शारीरिक, बौद्धिक व अन्य गतिविधियां होंगी। आरएसएस का सबसे ज्यादा फोकस यूथ पर होगा। ऐसे कार्यकर्ता तैयार किए जाएंगे, जो दो साल का समय दे सके। इसके लिए 2022 से 2025 तक का समय रखा गया है। छत्तीसगढ़ प्रांत में 1601 मंडल हैं। इनमें करीब 1200 शाखाएं लगेंगी, इसलिए यहां सभी मंडलों में शाखाएं खोली जाएंगी।

आरएसएस के गठन के 2025 में 100 साल पूरे हो जाएंगे। इससे पहले संगठन विस्तार को लेकर बड़ी तैयारी चल रही है। फिलहाल देश में 34 हजार स्थानों पर दैनिक शाखाएं हैं। 12780 स्थानों पर मासिक मिलन और 7900 पर मासिक मिलन मिलाकर 55 हजार स्थानों पर संघ का प्रत्यक्ष कार्य है। अभी देशभर में 54382 दैनिक शाखाएं लग रही हैं। देश में 6483 ब्लॉक में से 5683 में संघ कार्य कर रहा है। 32687 मंडलों में काम है। 910 जिलों में से 900 में काम है। 560 जिलों में जिला केंद्र पर 5 शाखाएं हैं।

आरएसएस सुबह या शाम की शाखाओं के साथ-साथ वनवासी कल्याण, सेवा भारती, किसान संघ, मजदूर संघ, विश्व हिंदू परिषद जैसे बड़ी संख्या में आनुषांगिक संगठन हैं। इसमें राजनीतिक फ्रंट के रूप में भाजपा भी है। छत्तीसगढ़ में भाजपा विपक्ष में है। लगातार 15 साल की सरकार के बाद भाजपा अब सिर्फ 14 सीटों पर है। भाजपा अपनी खोई हुई जमीन वापस पाने के लिए जद्दोजहद कर रही है।