Home राज्य छत्तीसगढ़ छत्तीगसढ़ का 30वां जिला बना सारंगढ़-बिलाईगढ़, 540 करोड़ 32 लाख की लागत...

छत्तीगसढ़ का 30वां जिला बना सारंगढ़-बिलाईगढ़, 540 करोड़ 32 लाख की लागत से 46 विकासकार्यों की सौगात

36
छत्तीगसढ़ का 30वां जिला बना सारंगढ़-बिलाईगढ़, 540 करोड़ 32 लाख की लागत से 46 विकासकार्यों की सौगात

सारंगढ़। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज छत्तीसगढ़ के 31वें जिले का उद्घाटन कर दिया है। इस दौरान मुख्यमंत्री को तिरंगा गमछा भी पहनाया गया। इससे पहले सीएम ने रायगढ़ के सारंगढ़ पहुंच कर प्रदेश के 30वें जिले सारंगढ़-बिलाईगढ़ का उद्घाटन किया था।

इसके वे 31वें जिले के उद्घाटन के लिए राजनांदगांव पहुंच गए हैं। यहां वे खैरागढ़-छुईखदान-गंडई जिले का शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री के पहुंचते ही वहां हर ओर जयकारे लगे और लोगों ने हाल और पुष्प गुच्छ देकर उनका स्वागत किया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सारंगढ़-बिलाईगढ़ वासियों को 540 करोड़ 32 लाख 98 हजार रुपए की लागत के 46 विभिन्न विकास कार्यों की सौगात दी। इसमें 28 करोड़ 3 लाख 1 हजार रुपए की लागत से निर्मित 20 कार्यों का लोकार्पण और 512 करोड़ 29 लाख 97 हजार रुपये की लागत से बनने वाले 26 कार्यों का भूमिपूजन शामिल है।

सीएम भूपेश बघेल ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि सारंगढ़ भौगौलिक, राजनीतिक और सांस्कृतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण क्षेत्र है। उन्होंने कहा कि जैसे बस्तर का दशहरा प्रसिद्ध है, वैसे ही सारंगढ़ का दशहरा भी प्रसिद्ध है। सीएम ने कहा कि पौने 4 साल में हमारी सरकार ने महिला, बच्चों, आदिवासी, अनुसूचित जाति के विकास के लिए अनेक कार्य किए हैं। किसानों की भी संख्या 15 लाख से बढ़कर 26 लाख हो गई है। उनकी संपन्नता बढ़ी है।

किसान हुए संपन्न, गाय का दूध, गोबर, गोमूत्र सभी का उपयोग

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि किसान अब गाय का दूध, गोबर और गोमूत्र सभी का उपयोग कर रहे हैं। चाहे किसान हों या लघु वनोपज के संग्राहक, सबको लाभ पहुंचाने का प्रयास जारी है। उन्होंने कहा कि गांव-गांव में रूरल इंडस्ट्रियल पार्क हो, यही प्रयास है। हमारी सरकार लगातार रोजगार देने का प्रयास कर रही है। शिक्षा के क्षेत्र में भी बहुत सारे काम हुए हैं। अंग्रेजी और हिंदी माध्यम में आत्मानंद स्कूल खोले जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा के लिए भी बहुत सारे कॉलेज खोले गए हैं। अंग्रेजी माध्यम कॉलेज भी खोले जा रहे हैं। 4 मेडिकल कॉलेज भी खोले गए हैं।