Home राज्य छत्तीसगढ़ शिवरीनारायण में राम वनगमन पथ का दूसरा पड़ाव आज से, सीएम भूपेश...

शिवरीनारायण में राम वनगमन पथ का दूसरा पड़ाव आज से, सीएम भूपेश करेंगे लोकार्पण

15
राम वनगमन पथ

रायपुर। राम वनगमन पथ के तहत चंदखुरी के बाद अब शिवरीनारायण का काम भी पूरा हो गया है। इसका रविवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल लोकार्पण करेंगे। इसके बाद यह लोगों के लिए खुल जाएगा। इसके साथ ही प्रभु श्रीराम-लक्ष्मण और शबरी माता की प्रतिमा का भी लोकार्पण किया जाएगा। मंदिर परिसर का उन्नयन एवं सौदर्यीकरण, दीपस्तंभ, रामायण इन्टरप्रिटेशन सेंटर एवं पर्यटक सूचना केेंद्र, मंदिर मार्ग पर भव्य प्रवेश द्वार, नदी घाट का विकास एवं सौंदर्यीकरण किया गया।

शिवरीनारायण राम वन गमन पथ परियोजना के पहले चरण में चिन्हित उन स्थानों में शामिल है, जिन्हें पर्यटन-तीर्थ के रूप में विकसित किया जा रहा है। 14 वर्षों के कठिन वनवास काल में श्रीराम ने अधिकांश समय छत्तीसगढ़ में व्यतीत किया था। छत्तीसगढ़ में सांस्कृतिक धरोहरों, परंपराओं और रामायण कालीन अवशेषों को सहेजने और संवारने के लिए राज्य में चिन्हांकित 75 स्थलों में से प्रथम चरण में 9 स्थानों पर राम वन गमन पर्यटन परिपथ के तहत अधोसंरचना विकास कार्यों, जीर्णाेद्धार और सौंदर्यीकरण का कार्य किया जा रहा है।

कौशल्या माता मंदिर जाएंगे सीएम भूपेश

सीएम भूपेश बघेल राजधानी में दूधाधारी मठ और चंदखुरी के माता कौशल्या मंदिर में कार्यक्रमों में शामिल होंगे। वे रविवार को दोपहर 1.50 बजे भिलाई-3 से हेलीकॉप्टर से प्रस्थान कर 2.05 बजे पुलिस परेड ग्राउंड रायपुर पहुंचेंगे। वहां से कार से 2.15 बजे दूधाधारी मठ रायपुर जाएंगे। बघेल वहां से 2.45 बजे पुलिस ग्राउंड हेलीपेड आएंगे। फिर हेलीकॉप्टर से अपरान्ह 3 बजे चंदखुरी पुलिस प्रशिक्षण अकादमी परिसर पहुंचेंगे। कौशल्या माता मंदिर जाएंगे। वे चंदखुरी से हेलीकॉप्टर से शाम 4 बजे जांजगीर-चांपा के ग्राम खरौद पहुंचेंगे। वहां से लक्ष्मणेश्वर मंदिर जाएंगे। इसके बाद लक्ष्मणेश्वर मंदिर एवं शबरी मंदिर जाएंगे।