Home बस्तर संभाग कांकेर ओडिशा के तहसीलदार, पत्नी, साले सहित चार की मौत, दो दिन से...

ओडिशा के तहसीलदार, पत्नी, साले सहित चार की मौत, दो दिन से थे लापता

30
ओडिशा के तहसीलदार, पत्नी, साले सहित चार की मौत, दो दिन से थे लापता

कांकेर। कांकेर से निकले लापता ओडिशा के नायब तहसीलदार, उनकी पत्नी और साले सहित चार लोगों की मौत हो गई है। यह सभी लोग शनिवार रात एक शादी समारोह में शामिल होकर लौट रहे थे। इसके बाद से इनका पता नहीं था। परिजनों ने थाने में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद पड़ताल शुरू हुई। जांच के दौरान पुलिस को आज नेशनल हाईवे-30 से लापता हुई उनकी कार कुएं में गिरी मिली। पुलिस ने कार बाहर निकलवाई है। इसमें पुलिस को चारों के शव मिले हैं। फिलहाल उनके शवों को अस्पताल भिजवाया जा रहा है। यहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया जाएगा।

दरअसल, पुलिस लापता हुई कार को हाईवे पर तलाश कर रही थी। वहीं पर जंगलवार कॉलेज के पास एक कुआं है। काफी पुराना होने के कारण इस्तेमाल में नहीं आता है और ऊपर से झाड़ियां उग आई हैं। पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगालते हुए जब कुएं के पास पहुंची तो संदेह हुआ। इसके बाद झाड़ियां हटाकर देखा गया तो अंदर कार गिरी हुई थी। पुलिस ने जेसीबी और क्रेन को बुलाया है। उसकी मदद से कुएं के आसपास के इलाके को साफ कराया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक ओडिशा के उमरकोट निवासी नायब तहसीलदार सपन सरकार (65) अपनी पत्नी रीता सरकार (50) की बड़ी बहन रीना दत्ता के बेटे की शादी में शामिल होने के लिए 6 दिसंबर को कांकेर के गोविंदपुर आए थे। इसके बाद 10 दिसंबर को गोविंदपुर में हुए रिसेप्शन में भी शामिल हुए। शादी में सपन के साले कोंडगांव निवासी विश्वजीत अधिकारी (42) और एक परिचित हजारी लाल ढाली (67) भी आए थे।

पार्टी के बाद नायब तहसीलदार सहित चारों शनिवार रात करीब 10.30 बजे कार से कोंडगांव के लिए रवाना हुए। उनके जाने से पहले और बाद में भी कुछ वाहन कोंडागांव के लिए निकले थे। जब रात करीब 12 बजे तक भी वे घर नहीं पहुंचे तो परिजनों को चिंता हुई। उन्होंने रीना दत्ता के मोबाइल पर कॉल किया, लेकिन शादी में व्यस्त होने के कारण वे कॉल रिसीव नहीं कर पाईं। इस पर परिजनों को लगा कि वे कांकेर में ही रुक गए होंगे। हालांकि बात हुई तब पूरा मामला पता चला।