Home राज्य छत्तीसगढ़ प्रदेश सरकार के 6 माह के काम-काज को फैल बताते हुए भाजपा...

प्रदेश सरकार के 6 माह के काम-काज को फैल बताते हुए भाजपा ने दिया धरना, राज्यपाल के नाम कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

115

दिनेश गुप्ता, दंतेवाड़ा, प्रदेश की भूपेश सरकार के छः महीने के काम काज को लेकर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल के नाम से ज्ञापन कलेक्टर को सौंपा। और प्रदेश की भूपेश सरकार के खिलाफ अपना प्रतीकात्मक विरोध दर्ज कराया।

इस दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष कमला विनय नाग,जिला पंचायत सदस्य नंदलाल मुड़ामी,शहीद विधायक भीमा मण्डावी की पत्नी ओजस्विनी मण्डावी,दीपक बाजपेयी व राजा गुप्ता समेत जिले के समस्त भाजपा नेता मौजूद रहे। इस दौरान भाजपा नेताओं ने कांग्रेस सरकार के राज में बिगड़ती विघुत व्यवस्था, कानून व्यवस्था, किसानों की कर्ज माफी जैसे मुद्दों को लेकर और प्रदेश सरकार को फेल बताते हुए आज भाजपा नेताओ ने राज्य सरकार घेरा।

सरकार पर लगाये कमीशनखोरी के आरोप

वही दूसरी तरफ बीजापुर जिले में पूर्व वन मंत्री महेश गागड़ा ने भुपेश सरकार के खिलाफ जमकर हल्ला बोला। महेश गागड़ा ने भूपेश सरकार और कांग्रेसियों पर कई गंभीर आरोप लगाते कहा है कि तारलागुड़ा में गोदावरी नदी की रेत को भी विधायक विक्रम मण्डावी अब पड़ोसी प्रांत के माफियों से मिलकर बेचने की फिराक में हैं। महेश गागड़ा ने कांग्रेसियों पर आम लोगों की समस्या को हाशिए पर रखकर तबादला उद्योग और उगाही में व्यस्त हो जाने का आरोप लगाया है।

बीजापुर के स्थानीय लाईवलीहुड काॅलेज के सामने भाजपा ने एक दिनी धरना दिया और भूपेश सरकार पर कई आरोप लगाए। इस मौके पर पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने सीधा आरोप मढ़ा कि अब तारलागुड़ा की रेत भी हैदराबाद भेज दी जाएगी। इस गोरखधंधे में कांग्रेसी और तेलंगाना के माफियों ने एका कर लिया है। गागड़ा ने कहा कि वैसे भी तेलंगाना सरकार ने गोदावरी नदी से अपने हिस्से वाले इलाके देवादुला में एक प्रोजेक्ट तैयार किया है और यहां से पानी हैदराबाद ले जाने की योजना है। पानी के बाद अब छग के हिस्से वाले इलाके से रेत ले जाने की कांग्रेसियों की कसरत चिंता बढ़ाने वाली है।

विधायक विक्रम मण्डावी को विकास से कोई लेना देना नहीं

उन्होंने कहा कि यहां विधायक विक्रम मण्डावी को विकास से कोई लेना देना नहीं है। पूर्व मंत्री ने भूपेश सरकार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाते कहा कि इलेक्शन मेनीफेस्टो को दरकिनार कर दिया गया है। सहकारी बैंक के ही कर्जदार किसानों का कर्ज माफ किया गया है। बिजली बिल हाफ का वादा करने वाली सरकार अब बिजली हाफ कर रही है। लोकलुभावन वादों के साथ सत्ता में आई भूपेश सरकार अब इन मामलों पर मौन है।

इस दौरान धरने में भाजपा के जिला प्रभारी एवं केशकाल के पूर्व विधायक सेवकराम नेताम, जिलाध्यक्ष जी वेंकट, भाग्यवती पुजारी, सुकमती भोगामी, श्रीनिवास राव मुदलियार, सुखलाल पुजारी, घासीराम नाग, ओंकार तारम, नीता शाह, जिलाराम राना, तिरूपति कटला, दशरथ परभुलिया, नकुल ठाकुर, संतू दास, जग्गू तेलामी, जागर लक्ष्मैया, मातियस कुजूर, सुनील साहू, संजय रिवानी, मनीष सिंह एवं अन्य पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद थे।