Home क्राइम कंपनी के कर्मचारी ने सामान को बाजार में बेचा, ऐसे पकड़ी गई...

कंपनी के कर्मचारी ने सामान को बाजार में बेचा, ऐसे पकड़ी गई गड़बड़ी

37
कंपनी के कर्मचारी ने सामान को बाजार में बेचा, ऐसे पकड़ी गई गड़बड़ी

बिलासपुर। अपोलो अस्पताल को सर्जिकल सामान सप्लाई करने वाली कंपनी के कर्मचारी ने सामान को खुले बाजार में बेच दिया। इसकी रकम अपनी शादी में खर्च की। साथ ही जेवर और प्लाट खरीद लिया। कर्मचारी ने यह हेराफेरा तीन साल के अंतराल में की।

इसकी जानकारी तब लगी, जब ऑडिट की गई। इसमें एक करोड़ रुपए की गड़बड़ी का पता चलने पर कंपनी के अधिकारियों ने पूछताछ की गई, तो कर्मचारी रकम जमा करने की बात करने लगा। कई बार कहने पर भी उसने रकम नहीं जमा कराई। इस पर कंपनी के मैनेजर ने मामले की शिकायत सरकंडा थाने में की है। इस पर पुलिस जुर्म दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।

ओडिशा के भुवनेश्वर में रहने वाले जे रामुकुमार मेडस्मार्ट लाजिस्टिक कंपनी के मैनेजर हैं। इसका मुख्यालय चेन्नई में है। कंपनी का एक कार्यालय बिलासपुर राजकिशोर नगर स्थित अमोल विला कॉलोनी के पास भी है। इसके प्रभारी देवरीखुर्द नवाअंजोर गली में रहने वाले लोकेश्वर सिंह है। कंपनी का अपोलो अस्पताल और अपोलो फार्मेसी से अनुबंध है।

कंपनी की ओर से अपोलो को सर्जिकल सामान उपलब्ध कराती है। कंपनी के कर्मचारी लोकेश्वर सिंह ने अपोलो के नाम से बिल बनाकर सामान को बाहर बेच दिया। हालांकि मामला दर्ज होने के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। बताया गया कि कर्मचारी ने जल्द ही रकम वापसी को कहा है।