Home राज्य छत्तीसगढ़ शून्यकाल में उठाए जा रहे थे महत्वपूर्ण मुद्दे, मंत्रियों के पास बैठे...

शून्यकाल में उठाए जा रहे थे महत्वपूर्ण मुद्दे, मंत्रियों के पास बैठे विधायक गिना रहे थी समस्याएं, तब अध्यक्ष ने कह डाली ये बड़ी बात

25
शून्यकाल में उठाए जा रहे थे महत्वपूर्ण मुद्दे

रायपुर। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने सदन में मौजूद सभी मंत्रियों को कहा कि शून्यकाल में कई महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा होती है, ऐसे समय में मंत्रियां को चाहिए कि वह सभी की बातें ध्यान से सुने, अपने पास कि विधायक को न बिठाएं।

दरअसल हुआ यूं कि जब शून्यकाल में बीजेपी विधायक सुकमा के कथित फर्जी मुठभेड़ का मामला उठा रहे थे, तभी कई विधायक मंत्रियों के पास अपने-अपने क्षेत्र की समस्या लेकर पहुंच गए थे। यह देखकर बीजेपी विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने कड़ी आपत्ति जतायी और मंत्रियों के पास बाजार लगने की बात कही। उन्होंने कहा कि विधानसभा की गरिमा तार-तार हो रही है। एक भी मंत्री शून्यकाल में उठाये जा रहे महत्वपूर्ण मुद्दों को सुन नहीं रहे हैं।

तब चरणदास महंत ने सभी मंत्रियों को ताकीद करते हुए ऐसा दुबारा न करने की बात कही।