Home क्राइम ऑनलाइन गेमिंग महादेव बुक एप के मुख्य सरगना के पाकिस्तानियों से जुड़े...

ऑनलाइन गेमिंग महादेव बुक एप के मुख्य सरगना के पाकिस्तानियों से जुड़े हैं तार, 12 जिलों में फैल चुका जाल

76
ऑनलाइन गेमिंग महादेव बुक एप के मुख्य सरगना के पाकिस्तानियों से जुड़े हैं तार, 12 जिलों में फैल चुका जाल

रायपुर। ऑनलाइन गेमिंग महादेव बुक एप का जाल प्रदेश के लगभग 12 जिलों में फैल चुका है। पुलिस ने 80 सट्टेबाजों की सूची बनाई है, जिनमें रायपुर, दुर्ग, भिलाई, रायगढ़, बिलासपुर, अंबिकापुर समेत अन्य शहरों के लोग शामिल है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि इन सभी के नाम, पते मिल चुके हैं। उनके यहां लौटने का इंतजार किया जा रहा है। इन पर नजर रखने के लिए माना विमानतल में सादे कपड़ों में जवान तैनात किए गए हैं। पुलिस अफसरों का दावा है कि दुबई से लौटे सट्टेबाज गिरफ्तारी के डर से मुंबई, दिल्ली में होटलों, रिश्तेदारों, दोस्तों के घर पर छिपे हुए हैं। पुलिस की जांच में मुख्य सरगना सौरभ चंद्राकर के पाकिस्तानियों से तार जुड़े निकले हैं।

गिरफ्तार सटोरियों से पूछताछ से पता चला है कि सौरभ और रवि उप्पल ने दुबई पहुंचने के बाद दो पाकिस्तानियों से संपर्क किया। दोनों को बिजनेस पार्टनर बनाकर आनलाइन सट्टे के कारोबार में करोड़ों रुपये निवेश कराए। सट्टे के गेम प्लान में पहले ही सौरभ और रवि ने दुबई के एक शेख को जोड़ रखा था। फिर हैदराबाद के रेड्डी अन्नाा एप के संचालक से मिलकर इस अवैध कारोबार की ट्रेनिंग ली। इन निवेशकों के साथ रायपुर और भिलाई के करीब आठ सराफा, कपड़ा कारोबारी समेत बिल्डर और सफेदपोश भी सट्टेबाजी के खेल में शामिल हैं।

दुबई से फैला देशभर में नेटवर्क

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दुबई (यूएई) से आनलाइन क्रिकेट सट्टेबाजी का खेल पूरे देशभर में आपरेट हो रहा है। भारत में पुणे, विशाखापट्टनम, बेंगलुरू, हैदराबाद, चेन्नाई, मुंबई, नागपुर में ब्रांच स्थापित की गई है। ब्रांच की वेबसाइट के माध्यम से सट्टेबाजों को आनलाइन सट्टा खिलाने के लिए 10 से 15 लाख रुपये में आइडी उपलब्ध कराकर कारोबार संचालित किया जा रहा है।