Home बड़ी ख़बर प्लेन क्रैश के तीन दिन बाद ईरान ने मांगी माफी, कहा-यात्री विमान...

प्लेन क्रैश के तीन दिन बाद ईरान ने मांगी माफी, कहा-यात्री विमान पर सेना ने गलती से मिसाइल दागी थी

23
ईरान

तेहरान। ईरान ने कबूला कि उसकी सेना ने गलती से यूक्रेन के यात्री विमान को निशाना बना दिया। सरकार की तरफ से जारी बयान में इसे इंसानी भूल (ह्यूमन एरर) बताया गया। इससे पहले ईरान ने हादसे के दो दिन बाद तक विमान पर मिसाइल से टकराने की बात से इनकार किया।

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो और ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने खुफिया सूत्रों के हवाले से दावा किया था कि विमान ईरान की मिसाइल टकराने से ही दुर्घटनाग्रस्त हुआ। ईरान ने पहले दोनों नेताओं से इन दावों के सबूत सौंपने के लिए कहा कि शनिवार को आखिरकार ईरानी सरकार ने गलती कबूल ली। यूक्रेन का विमान 8 जनवरी को दुर्घटनाग्रस्त हुआ था। इसमें 176 लोग मारे गए थे।

ईरानी सेना ने कहा- विमान एक चक्कर लगाने के बाद रेवॉल्यूशनरी गार्ड्स के बेस के काफी करीब उड़ रहा था। ऐसे में इसकी उड़ने का ढंग और ऊंचाई देखकर यह दुश्मन टारगेट के तौर पर चिन्हित हो गया। इन स्थितियों में मानवीय गलती की वजह से विमान पर मिसाइल दागी गईं। ईरान के विदेश मंत्री जावेद जरीफ ने दुर्घटना के लिए अमेरिका को भी जिम्मेदार ठहराने की कोशिश की।

जिम्मेदारों पर कार्रवाई होगी: हसन रूहानी

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने सेना के कबूलनामे के बाद ट्वीट में कहा, सेना की आतंरिक जांच में सामने आया है कि मानवीय भूल के चलते मिसाइल हमले में यूक्रेन का विमान क्रैश हुआ और 176 लोगों की मौत हुई। इस बड़ी त्रासदी और अक्षम्य घटना के जिम्मेदारों की पहचान और उन पर कार्रवाई के लिए जांच जारी रहेगी। ईरान इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना पर गहरा दुख व्यक्त करता है। मृतकों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदना।