Home राज्य छत्तीसगढ़ आज महाष्टमीः मंदिरों में हवन, घरों में कन्या पूजा के बाद ही...

आज महाष्टमीः मंदिरों में हवन, घरों में कन्या पूजा के बाद ही व्रत तोड़ेंगे भक्त

8
आज महाष्टमी

रायपुर। छत्तीसगढ़ समेत देशभर में आज शारदीय नवरात्रि की महाष्टमी की धूम है। दरअसल, इसे नवरात्रि की खास तिथियों में एक माना गया है क्योंकि इस दिन माता खुद चलकर अपने भक्तों के घर आती हैं। अष्टमी पर कन्या पूजा की परंपरा है। इस दिन भक्त देवी के रूप में 9 कन्याओं की पूजा करेंगे। इसके अलावा इस दिन हवन का भी विधान है जिसकी तैयारियां देवी मंदिरों और दुर्गा पंडालों द्वारा पूरी की जा चुकी हैं।

नवरात्रि में कन्या पूजन का सिलसिला नवमी तिथि यानी गुरुवार शाम तक जारी रहेगा। इस अवसर पर भक्त छोटी कन्याओं को घर बुलाकर उनके पैर पखारेंगे, फिर पूजा-अर्चना कर पुड़ी, सब्जी, हलुवा और अन्य व्यंजनों का भोग लगाएंगे। पूजन और भोजन के बाद देवी रूपी कन्याओं को उपहार देकर विदा किया जाएगा। बदले में कन्याएं भक्तों को सुख-समृद्धि का आशीर्वाद देंगी। पूजा की यह परंपरा इसलिए भी खास है क्योंकि इसमें सनातन धर्म का सार निहित है जो हर बाला में देवी और हर बच्चे में राम होने की बात कहता है। पं. युगल किशोर शर्मा ने कहा कि अष्टमी को कन्या पूजा के बाद नवरात्रि का व्रत तोड़ सकते हैं। संभव न हो तो नवमी को कन्या पूजन कर व्रत तोड़ें।

मंदिरों में आज सुबह से ही भीड़

अष्टमी पर रायपुर के देवी मंदिरों में सुबह से भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी है। शाम को हवन होगा, जिसकी पूर्णाहुति के बाद ब्राह्मण भोज कराया जाएगा। प्राचीन महामाया देवी मंदिर में हवन शाम 7 बजे शुरू होगा, जिसकी पूर्णाहुति रात 9.30 बजे तक होगी। आधी रात शस्त्र पूजा के बाद राज जोत व समस्त मनोकामना जोत का मंदिर परिसर स्थित प्राचीन बावली में विसर्जन किया जाएगा।