Home क्राइम बलरामपुर में 45 लाख के हाथी दांत बेचने की तैयारी में थे...

बलरामपुर में 45 लाख के हाथी दांत बेचने की तैयारी में थे ग्रामीण, आठ गिरफ्तार

4
हाथी दांत

बलरामपुर। जिले में हाथी दांत की तस्करी करने की फिराक में आठ ग्रामीण पकड़ाए हैं। दरअसल 18 नवंबर को जिले में रघुनाथ नगर के जंगलों में एक नर हाथी की लाश मिली थी। इसकी जांच में ग्रामीणों तक पुलिस और वन विभाग के अधिकारियों के हाथ पुहंचे। आरोपियों के पास से 16-16 किलो के दो हाथी दांत बरामद किए गए हैं। मामले में हाथी अनुसूची व वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धाराओं के तहत कार्रवाई की जा रही है।

इस प्रकरण में फरार अन्य 3 लोगों की तलाश जारी है। जानकारों का कहना है कि हाथी दांत की इंटरनेशनल मार्केट में कीमत 2 हजार डॉलर प्रति किलो है। इस हिसाब से जब्त किए गए दांत तकरीबन 45 लाख रुपयों के हैं।

वन विभाग की तरफ से दावा किया जा रहा है कि ग्रामीणों ने जंगली सुअर के मीट के लिए उसका शिकार करने के मकसद करंट वाले तार जंगल में बिछा रखे थे। जंगलों से होकर गुजरने वाले हाई वोल्टेज कनेक्शन से इस तार को जोड़ दिया गया था। सुअर तो इन तारों में नहीं फंसे मगर हाथी की इससे मौत हो गई।

हाथी के शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी मौत का कारण करंट लगना ही पता चला। सरगुजा के वन संरक्षक एबी मिंज ने इस मामले में जांच टीम गठित करने के निर्देश दिए थे। बलरामपुर के वन मंडल अधिकारी प्रणय मिश्रा ने जांच में ग्रामीणों से पूछताछ की। दावा किया जा रहा है पूछताछ में ग्रामीणों ने यह बातें बताईं। हाथी की लाश से दांत काटकर ग्रामीण ले गए थे।