Home राज्य छत्तीसगढ़ अंबिकापुर में जंगली हाथियों ने ग्रामीणों के घर तोड़े, लोग दहशत में

अंबिकापुर में जंगली हाथियों ने ग्रामीणों के घर तोड़े, लोग दहशत में

19
अंबिकापुर

अंबिकापुर। कापू वन परिक्षेत्र से लगे मैनपाट के बरीमा में हाथियों द्वारा लगातार नुकसान पहुंचाया जा रहा है। बुधवार की रात हाथियों ने चार ग्रामीणों का घर क्षतिग्रस्त करने के साथ ही मक्के व धान की फसल को भी बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचाया।

हाथियों का लोकेशन मिल जाने के बावजूद उन्हें सुरक्षित तरीके से जंगल में रोक पाने का सारा प्रयास विफल हो रहा है। पिछले 8 महीने से मैनपाट के वन अधिकारी, कर्मचारी हाथियों से बचाव के लिए प्रयास में लगे हुए हैं लेकिन हर रणनीति फेल नजर आ रही है।

14 हाथियों का ठिकाना बना मैनपाट

मैनपाट और कापु क्षेत्र के बड़े वन क्षेत्र को 14 हाथियों के दल ने स्थाई ठिकाना बना लिया है। पिछले 8 महीने से हाथी इसी क्षेत्र में जमे हुए हैं। गर्मी के सीजन में जंगल में ही चारा, पानी की व्यवस्था हो जाने तथा आबादी क्षेत्र में फसल नही होने के कारण हाथी आबादी क्षेत्र की ओर नहीं आ रहे थे। जैसे ही आबादी क्षेत्र से लगे खेतों में फसल लहलहाने लगी है, वैसे ही हाथियों का दल हर रोज जंगल से निकलकर खेतों में पहुंच रहा है।